घर में है तुलसी तो ध्‍यान रखे ये 5 बात, वरना बर्बाद हो जाएंगे आप

0

हिंदु धर्म के अनुसार तुलसी की पूजा एक देवी के रूप में की जाती है इसीलिए हर घर में तुलसी का पौधा पाया जाता है। यही कारण है कि प्राचीन समय से ही हर घर में तुलसी का पौधा लगाने की प्रथा चलती आ रही है। अगर आपके भी घर में तुलसी का पौधा है तो कुछ ऐसी बातें है जो ध्‍यान न रखने पर आप बर्बादी के कागार पर पहुंच सकते है इसलिए इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

इससे आपके ऊपर भगवान की विशेष कृपा बनी रहेगी और परिवार के लोगों की सेहत भी ठीक रहेगी। पूजा पाठ में तुलसी का विशेष महत्तव रहता है क्‍योंकि तुलसी को पवित्र व पूजनीय माना गया है। तो आइए जानते हैं ऐसी कौन सी बाते हैं जो ध्‍यान रखनी चाहिए।

1. तुलसी का प्रयोग पूजा पाठ में किया जाता है लेकिन आपको बता दें कि भगवान शिव की पूजा करते समय भूलकर भी तुलसी का प्रयोग न करें। ऐसा करने से शिव जी की पूजा का फल आपको प्राप्‍त नहीं होगा।

2.  तुलसी एक ऐसा पौधा है जिसके घर में रहने से नकारात्‍म उर्जा दूर रहता है किसी भी तरह की नकारात्‍मक शक्तियां घर में प्रवेश नहीं करती है। इसलिए शास्त्रों के अनुसार माना गया है कि तुलसी के पत्ते इन दिनों में नहीं तोड़ने चाहिए। ये दिन हैं एकादशी, रविवार और सूर्य या चंद्र ग्रहण काल। ऐसा करने से पाप लगता है।

3.  अगर आप महालक्षमी की कृपा अपने ऊपर बनाए रखना चाहते हैं तो आप हर रोज शाम के समय तुलसी के पास दीपक लगाएं, ऐसा करने से घर में महालक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है।

4.  तुलसी घर-आंगन में होने से कई प्रकार के वास्तु दोष भी समाप्त हो जाते हैं और परिवार की आर्थिक स्थिति पर शुभ असर होता है।

5.  आयुर्वेद में भी तुलसी के पौधे को संजीवनी की उपाधि दी गई है यही कारण है कि इसे प्रयोग करते समय कभी भी इसे चबाना नहीं चाहिए बल्कि सीधे निगल लेना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि तुलसी में ऐसे धातु होते हैं जो हमारे दातों को नुकसान पहुंचाते हैं।

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply