ये बीज डायबिटीज से लेकर दिल तक की बीमारी में फायदेमंद है

आमतौर पर तरबूज खाते समय अधिकांश लोग उसके बीज निकाल लेते हैं। कोशिश यही रहती है कि ज्यादा से ज्यादा बीज निकाल दे ताकि मुंह में न आए। वैसे भी अभी तक बच्चों को यही कहा जाता है कि अगर आप तरबूज के बीज निगल गए तो आपके पेट में तरबूज का पेड़ उग जाएगा। अगर आपने कभी तरबूज के बीज खा भी लिए तो आपको पता है कि ये बात सच नहीं है। लेकिन यह सवाल जरूर मन में उठता है कि क्या तरबूज के बीज खाना सुरक्षित है, क्या यह पचाने में हेल्दी है?

जी हां, तरबूज के बीज निगलने के लिए सौ प्रतिशत सेफ है। तरबूज के बीज कई पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इन्हें अच्छे से चबाकर खाना चाहिए, जिससे हमारा शरीर इन पोषक तत्वों को पा सके।

तरबूज के काले और सफेद दोनों तरह के ही बीज खाने के लिए सेफ होते हैं। ये दोनों केवल परिपक्वता के कारण अलग दिखते हैं। इनमें मैग्नीशियम,पोटाशियम,फास्फोरस और तांबे जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

पकाने की विधि

20-30 तरबूज के बीज लेकर पीस लें। अब इसे 2 लीटर पानी में 15 मिनट के लिए उबालें जिससे यह एक सिरप बन जाएगा। इसे दो दिन मे पीकर खत्म करें। हफ्ते में दो बार यह प्रक्रिया दोहराने से सेहत से जुड़ी कई समस्याएं दूर होंगी। इसके अलावा बीजों को सूखा कर खाने से भी लाभ होता है।

दिल के लिए अच्‍छा

तरबूज के बीज मैग्‍नीशियम का समृद्ध स्रोत होने के कारण हृदय की कार्यप्रणाली को नॉर्मल रखने, रक्‍तचाप को बनाये रखने और मेटाबॉलिक सिस्टम को सपोर्ट करता है।  यदि आप अपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो तरबूज के बीज का सेवन करें। एक नए अध्ययन में पाया गया है कि तरबूज आपके शरीर में हानिकारक कोलेस्ट्रॉल नहीं बनने देता और वजन कम करने में भी मदद करता है। इसके अलावा यह कार्डियोवस्कुलर रोगों और हाइपरटेंशन में भी फायदेमंद है।

डायबिटीज पर नियंत्रण

डायबिटीज के इलाज में भी तरबूज के बीज फायदेमंद होते हैं। इसके सेवन से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहती है। यदि आपको डायबिटीज की समस्‍या है और आपकी शुगर हमेशा घटती बढ़ती रहती है तो तरबूज के बीज को थोड़े से पानी में उबालें। इस पानी को रोजाना चाय की तरह पिएं।

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

बालों को टूटने से रोके

तरबूज के बीज का नियमित रूप से सेवन करने से इसमें पाया जाने वाला आवश्‍यक फैटी एसिड बालों के टूटने को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा बीज बालों के स्‍वास्‍थ्‍य को बनाये रखने में मदद कर बालों के विकास को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। तरबूज के बीजों को चबाकर खाने से बालों की जड़ें मजबूती होती हैं।

स्‍कैल्‍प की खुजली दूर करे

तरबूज के बीज से बने तेल की बनावट बहुत हल्‍की होती है इसलिए यह सिर के पोर्स को बंद किये बिना आसानी से अवशोषित हो जाता है। इसके अलावा, यह ड्राई और  परतदार स्‍कैल्‍प के लिए मॉइस्चराइजिंग लाभ प्रदान करता है।

मुंहासे दूर करे

मुंहासे की समस्या होने पर तरबूज के बीज का तेल चेहरे पर लगाएं। तरबूज के बीज का तेल त्‍वचा पर लगाकर कॉटन की मदद से इसे साफ करें। यह चेहरे से गंदगी और सिबम को हटाकर पोर्स को खोल देता है तथा त्वचा को सुंदर बनाता है।

त्‍वचा को जवां बनाये

तरबूज के बीज में एंटीऑक्‍सीडेंट गुण पाये जाते हैं जो त्‍वचा को युवा और स्‍वस्‍थ बनाये रखने में मदद करते हैं। साथ ही इसमें पाया जाने वाला लाइकोपिन त्‍वचा को लंबे समय तक जवां बनाये रखता है। इसके अलावा इसके बीजों को खाने से कुछ प्रकार के त्‍वचा कैंसर और संक्रमण से त्‍वचा की रक्षा होती है।

ये हैं तरबूज के बीज खाने के अन्य फायदे 

– किसी भी गंभीर बीमारी के बाद शरीर में बहुत सी कमजोरी आ जाती है। ऐसे में इसको लेने से फायदा होता है। ।

– इसमें मौजूद डायट्री फाइबर पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में मदद करते हैं और पाचन संबंधी समस्याओं को खत्म करने में सहायक होते हैं। कब्जियत की समस्या में भी यह बेहद लाभकारी है।

हमारी आयुर्वेद हीलिंग एप्प को अपने फ़ोन में डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए काले रंग के बटन में क्लिक करे उसके बाद आपके फ़ोन में गूगल प्ले स्टोर का पेज ओपन होगा (दोस्तों ये वही पेज है जहाँ से आप अपने फ़ोन में एप्प इंस्टॉल करते है )बस आपको हरे रंग का बटन दिखेगा जिसमे लिखा होगा install बस उसमे क्लिक कर दीजिए।आयुर्वेद हीलिंग एप्प इंस्टॉल हो जाएगी। अपने दोस्तों को भी डाउनलोड कराये। धन्यवाद.

2 COMMENTS

Leave a Reply

error: Content is protected !!