मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा

0
mota hone ke upay

मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा इन हिंदी :  Mota hone ki ayurvedic dawa in hindi

1. अश्वगंधा और शतावरी

आयुर्वेद में अश्वगंधा और शतावरी के उपयोग से वजन बढाने का उल्लेख मिलता है। अश्वगंधा और शतावर का चूर्ण मिक्स कर ले, अब इस में बराबर मात्रा में मिश्री मिला लीजिये, रात को सोते समय या कसरत करने के बाद एक चम्मच फांकी ले कर ऊपर से गर्म दूध पीजिये। एक महीने में ही शरीर का रूप रंग और डील डौल बदल जायेगा.

2. अखरोट

अखरोट में आवश्यक मोनोअनसेचुरेटेड फैट होता है जो स्वस्थ कैलोरी को उच्च मात्रा में प्रदान करता है। रोज़ 20 ग्राम अखरोट खाने से वजन तेजी से प्राप्त होगा।

3. मुनक्का

15 मुनक्का नित्य रात को खाकर पानी पीकर सोएं। एक दो महीने में ही सारी दुर्बलता दूर होकर शरीर का वजन बढ़ेगा, शरीर मोटा हो जायेगा।

4. अंजीर

शरीर का वजन घटता जा रहा हो, दिनों दिन शरीर पतला हो रहा हो, जवानी में ही बुढ़ापा झलकने लगे तो रात को आधा गिलास पानी में ३ अंजीर और ३ चम्मच सौंफ भिगो दे। प्रात: पानी छानकर अंजीर निकाल कर खाए और वही पानी पी जाए। ऐसा 45 दिन तक करने से वजन बढ़ जायेगा, शरीर मोटा हो जायेगा।
अंजीर दूध में उबाल कर खाने से और ऊपर से वही दूध पीने से भी मोटापा बढ़ता हैं और कमज़ोरी दूर होती हैं।

5. खजूर और चना।

5 खजूर और एक मुट्ठी काले चने धोकर रात को थोड़े से पानी में भिगो कर प्रात: खाएं, मोटापा बढ़ेगा, कमज़ोरी दूर होगी।

6. छुहारे

रात को सोते समय चार छुहारे, गुठली निकाल कर एक गिलास दूध में डालकर उबाले, छुहारे चबा चबा कर खा लीजिये और ऊपर से दूध पी लीजिये। और इसी प्रकार सुबह नाश्ते में भी यही प्रयोग करे। यह प्रयोग सर्दी के मौसम में लगातार ३ महीने तक करे। शरीर मोटा और सुन्दर होगा। बल बढ़ेगा और यौन शक्ति भी बढ़ेगी। यह प्रयोग सभु आयु के स्त्री पुरुष कर सकते हैं।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply