भीगी हुई मूंगफली के साथ यह एक चीज खा लो, बीमारी पास भी नहीं आएगी

0

मूँगफली एक प्रमुख तिलहन फसल है। मूँगफली वानस्पतिक प्रोटीन का एक सस्ता स्रोत हैं। इसमें प्रोटीन की मात्रा मांस की तुलना में 1.3 गुना, अण्डों से 2.5 गुना एवं फलों से 8 गुना अधिक होती है।

दस्र्दियों का मौसम शुरू हो गया है, इस मौसम में मूगफली खाना किसे पसं नही होता है, मूंगफली में कार्बोहाइड्रेट, मिनरल, कैल्शियम, प्रोटीन और ढेर सारे विटामिन होते हैं, ये सेहत के लिए बहुत ही अच्छे होते हैं, लेकिन अगर हम मूंगफली को गुड़ के साथ तो यह हमारे शरीर को दोगुना फायदा देती है, तो आज हम आपको मूंग्ल्फ्ली के साथ गुड़ खाने से होने वाले फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं।

रात में एक मुट्ठी मूंगफली के दानों को पानी में भिगोकर रख दें, और सुबह इन मूंगफली को उबालकर या फिर कच्चा, आप जैसे चाहें वैसे खा सकते हैं, साथ में 10 से 15 ग्राम गुड़ खा लीजिये, ये इतने जबरदस्त फायदे देगा कि आप हैरान रह जाओगे। जिनको भी कमजोरी की समस्या है, हाथ पैर में दर्द रहता है, शरीर में खून की कमी है, चक्कर आते हैं, थोड़ा सा काम करने पर थकान होने लगती है, उनके लिए मूंगफली और गुड़ का सेवन बहुत फायदे देता है, इन दोनों चीजों में ढेर सारा फाइबर होता है, जो पेट की समस्याओं जैसे गैस, कब्ज या एसिडिटी को दूर रखते हैं।

इसके अलावा इससे पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती है, यह वजन को कंट्रोल करता है, यह शरीर को एनर्जी देने के साथ साथ मेटाबॉलिजम को मजबूत करता है, इसके सेवन से दांत और हड्डियाँ भी मजबूत बनती है, क्योंकि इसमें बहुत सारा कैल्शियम होता है, साथ ही जो लोग बहुत दुबले पतले हैं, उन्हें भी रोजाना इन दोनों चीजों का सेवन करना चाहिए, इससे कुछ ही दिनों में शरीर मजबूत और ताकतवर बनने लगता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply