दही के अनोखे फायदे

3

दही ना केवल आपको स्वास्थ लाभ बल्कि कई तरह के सौंदर्य फायदे भी देता है|दही आपके शरीर से कई रोगो को दूर करने में मदद करता है| इसमें कुछ ऐसे रासायनिक पदार्थ उपस्थित होते है, जिसके चलते यह दूध की तुलना में जल्दी पच जाता है। जिन भी लोगों को पेट संबंधित परेशानियां जैसे की कब्ज, गैस आदि होती है| उन्हें दही का प्रयोग जरूर करना चाहिए|

आप दही के प्रयोग को कई तरह से कर सकते है| जैसे की आप उसे प्रत्यक्ष रूप से भी खा सकते है| या फिर इससे बनी लस्सी और छांछ भी ले सकते है| इसके तीनो रूप आपके शरीर के लिए फायदेमंद है| गर्मी के दिनों में तो दही का सेवन जरूर करना चाहिए| यह ना केवल आपके शरीर को ठंडक पहुचता है, बल्कि यह आपके शरीर में बढ़ने वाली चर्बी को भी घटाता है|

दही में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन पाया जाता है। दूध के मुकाबले दही सेहत के लिए ज्यादा फायदा करता है। क्‍योंकि दूध में मिलने वाला फैट और चिकनाई शरीर को एक उम्र के बाद नुकसान पहुंचाता है। इस के मुकाबले दही से मिलने वाला फास्फोरस और विटामिन डी शरीर के लिए लाभकारी होता है। दही में दूध की अपेक्षा ज्यादा मात्रा में कैल्शियम होता है। इसके अलावा दही में प्रोटीन, लैक्टोज, आयरन, फास्फोरस पाया जाता है।

आइए हम आपको बताते हैं कि दही आपके शरीर के लिए कितना फायदेमंद है।

टाइप 2 डायबिटीज का खतरा कम करें

डायबिटोलॉजिया जर्नल में प्रकाशित शोध की मानें तो दही के नियमित सेवन से डायबिटीज टाइप 2 का खतरा 28 प्रतिशत तक कम हो जाता है। यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज के मेडिकल रिसर्च काउंसिल युनिट की वैज्ञानिक डॉ. नीता फोरौही के अनुसार, दही में प्रोटीन, विटामिन, कैल्शियम और सैचुरेटेड फैट्स अच्छी मात्रा में होते हैं जो डायबिटीज टाइप 2 से दूर रखने में आपकी मदद करते हैं। इसलिए अगर आप डायबिटीज से परेशान है तो अपने आहार में दही को शामिल करें।

पेट के लिए रामबाण है दही

दही पेट के लिए बहुत फायदेमंद होता है। पेट की बीमारी से परेशान लोगों को अपने आहार में दही को प्रचूर मात्रा में शामिल करना चाहिए। पेट में जब अच्छे किस्म के बैक्टीरिया की कमी हो जाती है, जिसके चलते भूख न लगने जैसी तमाम बीमारियां पैदा हो जाती हैं। इस स्थिति में दही सबसे अच्छा भोजन बन जाता है। इसमें अच्छे बैक्टीरिया पाये जाते हैं जो पेट की बीमारी को ठीक करते हैं। यह इन तत्वों को हजम करने में मदद करता है। दही में अजवाइन मिलाकर पीने से कब्ज की शिकायत समाप्त होती है।

हड्डियों के लिए फायदेमंद

दही कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। दही खाने से दांत भी मजबूत होते हैं। दही ऑस्टियोपोरोसिस (जोडों की बीमारी) जैसी बीमारी से लड़ने में भी मददगार होती है।

त्‍वचा के लिए गुणकारी

चेहरे पर दही लगाने से त्वचा मुलायम होती है और त्वचा में निखार आता है। दही से चेहरे की मसाज की जाये तो यह ब्लीच के जैसा काम करता है। गर्मियों में त्वचा पर सनबर्न की समस्‍या को दूर करने के लिए दही मलना चाहिए, इससे सनबर्न और टैन में फायदा मिलता है। इसके अलावा त्वचा का रूखापन दूर करने के लिए दही का प्रयोग करना चाहिए। जैतून के तेल और नींबू के रस के साथ दही का चेहरे पर लगाने से चेहरे का रूखापन समाप्त होता है।

मुँह के छाले ठीक करे

क्या आप जानते है दही का सेवन मुँह के छाले दूर करने में भी फायदेमंद है| जब भी हमें छाले जो जाते है उसे दूर करने के लिए हम कई तरह के नुश्खे आजमाने की कौशिश करते हैं| छालो की परेशानी को दूर करने के लिए दही की मलाई को दो से तीन दिन छाले पर लगाये, इससे आपको ठंडक मिलेगी और छाले भी जल्दी ठीक हो जाएंगे।

भूख बढ़ाये

गर्मी के दिनों में आपको दही का सेवन रोज करना चाहिए| क्योकि इसके नियमित सेवन से आपकी पाचन क्रिया सही रहती हैं, और आप पूरा दिन खुद को तारो ताज़ा महसूस करते हैं। जिन लोगो को भूख ना लगने की शिकायत होती है, उनके लिए तो यह बहुत फायदेमंद है|

इसके अलावा यदि किसी को अपच की समस्या हो तो पीसी हुइ काली मिर्च, पिसा हुआ जीरा और सेंधा नमक को दही में डालकर खाने से अपच दूर होती है और खाना जल्दी पच जाता है।

मोटापा कम करे

दही मोटापे को कम करने मैं भी सहायक हैं| एक कटोरी दही रोजाना खाने से आप अपने बढ़ते वजन को नियंत्रित कर सकते है| लेकिन हां यदि आप वजन कम करने के लिए दही का सेवन कर रहे है तो बिना मलाई वाला दही खाए, मलाई वाले दही में कैलोरी की मात्रा ज्यादा होती है|

अन्‍य लाभ

  • दही के सेवन से हार्ट में होने वाले कोरोनरी आर्टरी रोग से बचाव किया जा सकता है। दही के नियमित सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है।
  • दही पीने से पाचन क्षमता बढती है और भूख भी अच्छे से लगती है।
  • सर्दी और खांसी के कारण सांस की नली में इन्फेक्शन हो जाता है। इस इंफेक्शन से बचने के लिए दही का प्रयोग करना चाहिए।
  • मुंह के छालों के लिए यह बहुत ही अच्छा घरेलू नुस्खा है। मुंह में छाले होने पर दही से कुल्ला करने पर छाले समाप्त हो जाते हैं।
  • लू से बचने के लिए दही का प्रयोग किया जाता है। लू लगने पर दही पीना चाहिए।

गर्मी के मौसम में दही और उससे बनी छाछ का ज्यादा मात्रा में प्रयोग किया जाता है। क्योंकि छाछ और लस्सी पीने से पेट की गर्मी शांत होती है। दही का रोजाना सेवन करने से शरीर की बीमारियों से लडने की क्षमता बढती है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

3 COMMENTS

Leave a Reply