लाल शिमला मिर्च बालों से लेकर आंखों तक की समस्या में कितना फायदेमंद है, जानिए

0

लाल शिमला मिर्च में विटामिन सी, और बीटा कैरोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि ये सब्जी स्वाद ही नहीं है बल्कि स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी बहुत फायदेमंद होती हैं। इसमें कैलोरी की मात्रा नाममात्र की होने के कारण यह खराब कोलेस्‍ट्रॉल को नहीं बढ़ाती। साथ ही यह वजन को नियंत्रित करने में मदद करती है। लाल शिमला मिर्च को लोग सब्‍जी और सलाद दोनों ही रूपों में बढ़े चाव से खाते हैं।

आइये हम आपको बताते है लाल शिमला मिर्च के फायदों के बारे में।

त्‍वचा के लिए लाभकारी

लाल शिमला मिर्च में आयरन, विटामिन, बीटा कैरोटीन आदि भरपूर मात्रा में होता है। इसलिए यह त्‍वचा से चकत्ते और उम्र के धब्‍बों की रोकथाम में मदद करती है। लाल शिमला मिर्च की नियमित रूप से इस्‍तेमाल मेलेनिन के उत्पादन को सीमित कर रंग में सुधार करता है।

एंजिग की समस्‍या में लाभकारी

लाल शिमला मिर्च बीटा कैरोटीन से समृद्ध होती है। यह शरीर में प्रवेश करने पर विटामिन ए में परिवर्तित हो जाती है। यह झुर्रियों के विकास को रोकने और एक उज्जवल रंग को बढ़ावा देकर एक स्वस्थ त्वचा के रखरखाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

बालों को झड़ने से बचाता है

बालों का झड़ना लोगों की आम समस्या है और लाल शिमला मिर्च की पर्याप्त सेवन से इस समस्‍या का हल धीरे-धीरे किया जा सकता है। क्‍योंकि यह विटामिन बी-6 का अमीर स्रोत होने के कारण बालों के रोम को ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा स्थानांतरण करता है। यह बालों की जड़ो में रक्त परिसंचरण में सुधार करके बालों के विकास को उत्तेजित करता है।

आंखों के लिए लाभकारी

कमजोर आंखों वाले लोगों के लिए लाल शिमला मिर्च का सेवन आंखों के स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने के लिए फायदेमंद होता है। क्‍योंकि इसमें मौजूद विटामिन ‘ए‘ आंखों के लिए बहुत उपयोगी होता है। इसके मसाले में मौजूद अन्य यौगिकों उम्र से संबंधित आंख की समस्याओं के खतरे को कम करने में उपयोगी होता है।

तुरंत ऊर्जा प्रदान करें

विटामिन बी-6 एक कोइंजिमी है इसके सेवन से शरीर के अंदर अन्य एंजाइमों ठीक करने का कार्य करते है। यह एंजाइम शरीर के भीतर जैव रासायनिक प्रतिक्रियाओं करते है और ऊर्जा के उत्पादन का नेतृत्व करते हैं, ग्‍लूकोज के साथ शरीर को न्यूरोट्रांसमीटर के साथ हीमोग्लोबिन प्रदान करते हैं।

सूजन कम करें

लाल शिमला मिर्च में अद्भुत एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण सूजन और ऑटो प्रतिरक्षा रोगों से पीड़‍ित लोगों के लिए विशेष रूप से लाभप्रद होता है। गठिया से पीड़ित लोग को नियमित रूप से मसाला के रूप में इसका  इस्‍तेमाल करने से सूजन और दर्द से राहत मिल सकती है।

स्पाइडर वेन्स को ठीक करें

अगर आपके शरीर में स्पाइडर वेन्स है तो नियमित रूप से लाल शिमला मिर्च का सेवन कर आप आसानी से इस समस्‍या से छुटाकारा पा सकते हैं। लाल शिमला मिर्च में कुछ गुण होते है जिससे रक्त की आपूर्ति में रुकावट नहीं आती और नसों को मजबूत करते है।

हाइपरटेंशन में उपयोगी

लाल शिमला मिर्च में केपसिसिन की उपस्थिति शरीर में रक्तचाप के स्तर को कम करने के लिए जिम्मेदार माना जा सकता है। हाइपरटेंशन से पीड़ित लोगों लाल शिमला मिर्च के इस्‍तेमाल से रक्तचाप के स्तर में कमी पा सकते हैं।

बालों की प्राकृतिक रंग को बनाए रखता है

जो लोग बालों के सफेद होने की समस्‍या से चिंतित है उन लोगों के लिए नियमित रूप से लाल शिमला मिर्च का इस्‍तेमाल वरदान की तरह है। इसमें मौजूद विटामिन बी-6 मेलेनिन के उत्पादन को उत्तेजित करता है। अगर आप इसका उपभोग नहीं करना चाहते हैं, तो आप अपने बालों के लिए लाल रंग देने के लिए मेंहदी के साथ इसके पाउडर को जोड़ सकते है। हालांकि, आप अपने सिर पर सीधे इसे लागने से पहले अपनी कलाई पर एक पैच परीक्षण करना चाहिए।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।

Leave a Reply