जानिए विटामिन सी कितना मददगार है हाई ब्लड प्रेशर कम करने में

0

एक ब्लड प्रेशर का मरीज ही हाई ब्लड प्रेशर के रोग की गंभीरता को समझ सकता है। यह बीमारी तेजी से पूरी दुनिया में अपनी जड़ें फैला रही है। आजकल हर घर में किसी ना किसी व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत है। परहेज ना करने पर यह बिमारी भयंकर रूप भी ले सकती है। इसके अलावा हाई ब्लड प्रेशर के मरीज को अपने खाने में स्वाद से भी समझौता करना पड़ता है। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर से जुड़ी इन बातों को जानना जरूरी है।

ब्लड प्रेशर की समस्या क्यों होती है?

रक्त नलिकाओं पर पड़ने वाले खून के दबाव को ब्लड प्रेशर कहते हैं। पूरे शरीर में ब्लड का सर्कुलेशन दिल तथा धमनियों के द्वारा होता है। जब शरीर में धमनियों की दीवारें अपने नार्मल आकर से मोटी और संकुचित हो जाती हैं, तो शरीर में ब्लड का नार्मल सर्कुलेशन नहीं हो पाता। इससे दिल को ब्लड पंप करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है और यह समस्या ब्लड प्रेशर का कारण बनती है।

शोध के अनुसार

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए केलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में वैज्ञानिकों ने एक प्रयोग किया। इस प्रयोग में वैज्ञानिकों ने 18 से 21 साल की 242 लड़कियों को शामिल किया, जब उन्हें शामिल किया गया तब उनकी उम्र 8 साल की थी औऱ लगभग 10 साल तक चले शोध के बाद विटामिन सी में प्लाज्मा के स्तर व ब्लड प्रेशर की जांच की गई।

इस जांच के बाद सामने आया कि विटामिन सी हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में बहुत कारगार है। कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के प्रमुख रिसर्चर डा. ग्लेडिस ब्लाक, विटामिन सी को हाई ब्लड प्रेशर नियंत्रित रखने में मददगार बताते हैं। इससे पहले भी हाई ब्लड प्रेशर को लेकर जो रिसर्च हुए हैं उनमे भी विटामिन सी को इस रोग के इलाज के लिए उपयोगी बताया गया है। पहले के रिसर्च में पाया गया कि विटामिन सी (एस्कार्बिक एसिड) में मौजूद प्लाज्मा का उच्च स्तर अधेड़ व वृद्ध महिलाओं में ब्लड प्रेशर को कम करने में मददगार है।

शोध के परिणाम

जिन महिलाओं के शरीर में विटामिन सी की अधिकता पाई गई, उनमें सिस्टोलिक यानि (हृदय में संकुचन) ब्लड प्रेशर में 4.66 मिली व डायस्टोलिक यानि (हृदय में फैलाव) में 6.04 मिली की कमी देखी गई। रिसर्च में सामान्य से ज्यादा फलों, सब्जियों या मल्टीविटामिन (विटामिन सी सप्लीमेंट्स) लेने पर एस्कार्बिक एसिड का स्तर ज्यादा पाया गया। एस्कार्बिक एसिड विटामिन सी का एक मुख्य स्रोत होता है। शरीर में इसकी अधिकता से हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है।

fruits-vitaminc

विटामिन सी के अच्छे स्रोत –

विटामिन सी कई चीज़ों से प्राप्त होता है। खट्टे रसदार फल जैसे आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, अंगूर, टमाटर, आदि में विटामिन सी भरपूर मात्रा होती है। इसके अलावा अमरूद, सेब, केला, बेर, कटहल, शलगम, पुदीना, मूली के पत्ते, मुनक्का, दूध, चुकंदर, चौलाई, बंदगोभी, हरा धनिया और पालक विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं। दालें भी विटामिन सी का स्रोत होती हैं। असल में सूखी अवस्था में दालों में विटामिन सी नहीं होता लेकिन भीगने के बाद दाल में विटामिन सी के गुण आ जाते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के अन्य उपाय-

  1. कैल्यिशम- हाई ब्लड प्रेशर में कैल्यिशम जरूरी है, इसलिए कम से कम 800 मिलीग्राम कैल्शियम अवश्य लें। यह तीन कप दूध से प्राप्त हो जाता है।
  2. लहसुन- लहसुन की 3-4 कलियां रोज़ लेने से भी ब्लड प्रेशर ठीक रहता है।
  3. फाइबर- रोज़ 20 ग्राम फाइबर लेने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल घटता है। साथ ही हाई बीपी भी कम होती है। चोकर वाले आटे की रोटी, दाल, फल जैसे सेब, आम, केले, आडू, दलिया, कॉर्न आदि से फाइबर प्राप्त होता है।
  4. इसके अलावा हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए गुस्सा कम करें, नियमित व्यायाम करें और अपने वजन को नियंत्रित रखने की कोशिश करें।
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।

Leave a Reply