रोज सुबह हल्‍दी मिलाकर पानी पीने के अचूक फायदे

1

ज्‍यादातर लोग स्‍वस्थ और फिट रहने के लिए सुबह उठते ही गर्म पानी में नींबू और शहद मिलाकर पीते है। इसे लेने से वजन कम होता है और इसके नियमित सेवन से सेहत से जुड़ी कई समस्याओं से हमेशा के लिए निजात मिल सकती है, जैसे शरीर के विषैले तत्‍व बाहर निकलते है, पाचन संबंधी समस्‍याएं दूर होती है, रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और त्‍वचा में चमक आती है। इसके अलावा किसी प्रकार की भी कमजोरी आने पर लोग हल्‍दी वाला दूध पीते हैं।

लगभग हम सभी लोग गर्म पानी में नींबू मिलाकर और हल्‍दी वाले दूध पीने के फायदों के बारे में जानते हैं। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि अगर इस मिश्रण में थोड़ी सी हल्‍दी भी मिला दी जाए तो इसके गुण और भी बढ़ जाते हैं। यकीन नहीं हो रहा न, लेकिन हल्‍दी वाला पानी स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों से भरपूर होता है। आइये इस आर्टिकल के माध्‍यम से हल्‍दी वाला पानी बनाने के तरीके और सुबह पानी में हल्‍दी में मिलाकर पीने के फायदों के बारे में जानते हैं।

हल्‍दी वाला पानी बनाने का तरीका

सामग्री
1/2 – नींबू
1/4 – टी स्‍पून हल्‍दी
1 गिलास – गर्म पानी
थोड़ी सी शहद

हल्‍दी वाला पानी बनाने की विधि

एक गिलास में आधा नींबू निचोड़ कर उसमें हल्‍दी और गर्म पानी मिलाकर अच्‍छे से मिक्‍स कर लें।
फिर उसमें स्‍वादानुसार शहद मिलाएं।
हल्‍दी कुछ समय बाद नीचे बैठ जाती है, इसलिए पीने से पहले इसे अच्‍छे से हिलाकर पीयें।

हल्‍दी वाले पानी के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

एंटी-कैंसर गुणों से भरपूर

हल्‍दी में करक्‍यूमिन नामक केमिकल की मौजूदगी इसे एक ताकतवर एंटीऑक्‍सीडेंट बनाता है। जो कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं से लड़ती है।

पाचन दुरुस्‍त रखें

कई शोधों से यह बात साबित हुई है कि नियमित रूप से हल्‍दी का सेवन करने से पित्‍त ज्‍यादा बनता है, जिससे आपका आहार आसानी से हजम हो जाता है और आहार के अच्‍छे से हजम होने से आप पेट संबंधी बीमारियों से बचे रहते हैं। इसलिए अगर आप अपने पाचन को दुरुस्‍त रखना चाहते हैं तो आज से ही अपनी दिनचर्या में हल्‍दी वाले पानी को शामिल करें।

शरीर की सूजन कम करें

हल्दी में करक्यूमिन नामक केमिकल की मौजूदगी के कारण यह दवा के रूप में काम करता है और यह शरीर की सूजन कम करने में सहायक होता है। शरीर में चाहे कितनी भी सूजन क्‍यूं न हो, हल्‍दी वाला पानी पीने से कम हो जाती है। इसके अलावा करक्यूमिन के कारण यह जोड़ों के दर्द और सूजन को दूर करने में दवाइयों से भी ज्‍यादा अच्‍छी तरह से काम करता है|

दिमाग तेज करें

हल्‍दी दिमाग के लिए बहुत अ‍च्‍छी होती है, अगर आप सुबह के समय गर्म पानी में हल्‍दी मिलाकर पीते हैं यह आपके दिमाग के लिए बहुत अच्‍छा रहता है। भूलने की बीमारी जैसे डिमेंशिया और अल्‍जाइमर को भी इसके नियमित सेवन से कम किया जा सकता है।

दिल को दुरुस्‍त रखें

हल्‍दी वाला दूध दिल की सेहत के लिए भी बहुत अच्‍छा होता है। इसे पीने से खून जमता नहीं है और साथ ही यह खून साफ करने में भी मददगार होता है। इसके अलावा इससे खून की धमनियों में जमाव भी हट जाता है। हल्‍दी वाला पानी भी दिल को दुरूस्‍त रखने के लिए ऐसे ही काम करता है।

लीवर की रक्षा करें

हल्‍दी का पानी टॉक्सिक चीजों से आपके लीवर की रक्षा करता है और खराब लीवर सेल्‍स को दोबारा ठीक करने में मदद करता है। इसके अलावा यह पित्ताशय के काम को ठीक करने में मदद करता है, जिससे आपके लीवर की रक्षा होती है।

उम्र के असर को करें बेअसर

गर्म पानी में नींबू, हल्दी पाउडर और शहद मिलाकर पीने से यह शरीर के विषैले पदार्थ बाहर निकालने में बहुत मददगार होता है। इसके अलावा इसे नियमित रूप से पीने से फ्री रैडिकल्‍स से लड़ने में मदद मिलती है जिससे शरीर पर उम्र का असर कम और धीरे-धीरे पड़ता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

1 COMMENT

  1. क्या यह खाली पेटमें यानी सुवह सबसे पहले पीना चाहिए या पानी पिनेके बाद ?

Leave a Reply