मेथी खाने के 9 फायदे, Methi khane ke fayde in hindi

0

मेथी खाने के फायदे, methi khane ke fayde in hindi – मेथी के दानों  का प्रयोग अक्सर दाल सब्जी आदि में तडका लगाने या फिर स्वाद बढाने के काम आता है परंतु बहुत ही कम लोग इसके स्वास्थ्यवर्धक फायदे जानते हैं। मेथी के दानों में पोटेशियम, आयरन, कैल्शियम, फाईबर, विटामिन ए व बी अच्छी मात्रा में पाया जाता है जो शरीर के लिए बहुत गुणकारी है। चलिए आपको बताते हैं मेथी हमारे स्वास्थ्य के लिए किस प्रकार लाभदायक है।

मेथी दाना के औषधीय फायदे- (methi ke fayde benefits in hindi)

1. मोटापा कम करती है

प्रतिदिन मेथी के चार पांच दाने चबाने से मोटापा कम होता है व शरीर की चर्बी भी घटती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि मेथी का स्वभाविक गुण गरम होता है जो शरीर के मेटाबालिज्म को बढाता है जिससे मोटापा कम होने व चर्बी घटाने में सहायता मिलती है।

2. बालों को घना काला व मजबूत रखता है

मेथी के दानों को पीसकर नारियल के पानी में मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें। फिर इसे बालों की जडों में हल्के हल्के लगाएं। ऐसा तीन चार हफ्तों तक लगातार करें। इससे बालों में रूसी, बालों का झडना कम होगा। साथ ही में बाल घने, काले व मजबूत बने रहेंगे।

3. शारीरिक कमजोरी दूर करने में लाभदायक

मेथी में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। प्रतिदिन दो चार पत्ते चबाने से शरीर में थकावट नहीं होती व सदैव स्फूर्ति बनी रहती है।

4. ह्रदय रोगों से बचाता है

मेथी में कोलेस्ट्रॉल कम करने के प्राकृतिक गुण होते हैं। मेथी दाने का नियमित व नियंत्रित उपयोग खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। धमनियों में वसा कम करता है जिससे खून में क्लाट बनने की संभावना कम हो जाती है व ह्रदय घात से बचा जा सकता है।

5. मधुमेह यानि डायबिटीज़ पर नियंत्रण

मधुमेह की समस्या होने पर प्रतिदिन दो चार चम्मच मेथी दानें के सेवन से लाभ मिलता है। मेथी दाना शरीर में इंसुलिन की मात्रा को नियंत्रण में रखने में सहायता करता है। व रक्त में बहुत कम या ज्यादा शुगर नहीं होने देता।

6. पाचन तंत्र मजबूत रखता है

मेथी में मौजूद फायबर पाचन तंत्र को मजबूत रखता है। मेथी दानों का उपयोग पेट में गैस्ट्रिक की समस्या में आराम देता है और कब्ज नहीं बनने देता।

7. फोडे फुंसी में लाभदायक

मेथी दाने को पीसकर इसका लेप फोडों फुंसियों पर लगाने से राहत मिलती है व घाव जल्दी भरते हैं।

8. जोडों के दर्द में राहत

मेथी के दस बारह पत्ते लेकर उन्हें साफ पानी में अच्छे से उबाल लें। इसके बाद उबले हुए पत्तों को अच्छी तरह से चबांए। इससे जोडों व घुटने के दर्द में आराम मिलेगा।

9. यकृत विकारों में लाभ

प्रतिदिन अंकुरित मेथी सुबह खाने से लीवर संबंधित समस्याओं में लाभ मिलता है।

सावधानियां

मेथी के उपयोग में कुछ सावधानियां भी बरतने की जरूरत है। मेथी की प्रकृति गरम होती है इसलिए बवासीर, नकसीर, या जिन लोगों का किसी भी प्रकार का रक्त स्राव होता है वे इसके उपयोग से पहले अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

Source: www.ayurvedicsehat.com

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply