डायबिटीज और हाई बीपी के लिए वरदान है नाशपाती। जानिये इसके अन्य फायदे

आयुर्वेद के अनुसार नाशपाती पचने में हल्की, रोगी को जल्दी ऊर्जा देने वाली, मल साफ करने वाली, प्यास बुझाने वाली और त्रिदोष नाशक है।नाशपाती भारत में बहुत लोकप्रिय फल तो नहीं है लेकिन इसे पसंद करने वालों की कमी भी नहीं है। ये एक मौसमी फल है जो भारत में काफी कम दिनों के लिए आता है। नाशपाती मीठा और रसीला होता है।

100 ग्राम नाशपाती में 19 मैग्निशियम मिलीग्राम,9 मिलीग्राम सोडियम ,14 मिलीग्राम फॉस्फोरस,लोहा – 2.3 मिलीग्राम ,आयोडीन 1 मिलीग्राम कोबाल्ट, 10 मिलीग्राम , मैंगनीज 65 मिलीग्राम, कॉपर – 120 मिलीग्राम, मोलिब्डेनम – 5 मिलीग्राम फ्लोरीन 10 मिलीग्राम, जिंक – 190 ग्राम, विटामिन ए, विटामिन बी1, बी2, और पोटैशियम भी पाया जाता है। साथ ही भरपूर मात्रा में कैल्शियम भी पाया जाता है।

अगर आप नाशपाती नहीं खाते तो इसके इन फायदों को पढ़ें, नाशपाती खाने का बहाना मिल जाएगा।

एनीमिया से बचाए

नाशपाती आयरन का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता हैं और एनीमिया से ग्रस्त रोगियों को सुरक्षा प्रदान करता हैं।

कोलेस्‍ट्रॉल से मुक्‍ती

नाशपाती में पक्‍टिन होता है जो कि कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इसका रस सभी को पीना चाहिये।

बुखार से छुटकारा

एक गिलास नाशपाती का रस पीने से जल्दी ही बुखार से राहत मिल सकता है। यह तपते हुए शरीर को ठंड कर देता है।

पाचन तंत्र को मजबूत बनाए

नाशपाती फाइबर का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाता हैं। इसमें मौजूद पेक्टिन कब्ज और दस्त को ठीक कर सकता है। इसके जूस को रोजाना पियें।

हड्डियों के लिए फायदेमंद

नाशपाती में अधिक मात्रा में बोरोन होता है। बोरोन हड्डियों में कैल्शियम को बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए नाशपाती का सेवन करने से आस्टियोपोरोसिस होने का खतरा नहीं होता।

मधुमेह

प्रचुर मात्रा में फाइबर से युक्त नाशपाती मधुमेह रोगियों के लिये अच्‍छा होता है। इसकी शर्करा को खून धीरे-धीरे अवशोषित कर लेता है और फाइबर इसके स्तर को नियंत्रित रखता है।

हाई बीपी को कंट्रोल करे

नाशपाती में मौजूद पोटैशियम और ग्लूटाथिओन होते हैं जो कि एक प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट हैं और रक्तचाप को कम करने तथा दिल के दौरे और स्ट्रोक के खतरे को कम करने में मदद करते हैं।

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

कैंसर से बचाव

इसमें कॉपर और विटामिन सी होता है, जिसे रोजाना खाने से कैंसर पैदा करने वाले फ्री रैडिकल्‍स क्षतिग्रस्‍त हो जाते हैं। नाशपाती पेट के कैंसर को रोकने में मदद करता है। इसका रेशे पेट के कैंसर को बढ़ने से रोकते हैं। नाशपाती के नियमित सेवन से रजोनिवृत्ति के बाद महिलाओं में होने वाले कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है।

प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाए

नाशपाती में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और जुकाम, फ्लू और संक्रमण से लड़ने में मदद करता हैं।

ऊर्जा बढाए

नाशपाती का जूस पीने से तुरंत ही शरीर में ऊर्जा बढ़ती है। ऐसा इसलिये होता है क्‍योंकि इसमें ग्‍लूकोज होता है।

सूजन कम करे

जिन लोगों को सूजन की वजह से दर्द होता है, उन्‍हें इसका रस पी कर काफी आराम हो सकता है।

गर्भवती के लिए लाभदायक

नाशपाती गर्भवती स्त्री और उसके बच्चे के लिए भी फायदेमंद होता है।

बड़ी आंत को स्वस्थ बनाए रखता है

नाशपाती खाने से बड़ी आंत स्वस्थ रहती है और उससे जुड़ी कोई बीमारी नहीं होती।

NO COMMENTS

Leave a Reply

error: Content is protected !!