शरीर की कमजोरी, चक्कर आना, B P हाई या low होना…के लिए रामबाण घरेलु इलाज

0

दिमाग में Blood खून ) पर्याप्त मात्रा में न पहुंचने पाने पर या फिर ब्लड प्रेशर कम या अधिक हो जाने पर चक्कर आने लगते है, जिसे vertigo (वर्टिगो )कहते है चक्कर आने के कारण शरीर में खून की कमी, कान में संक्रमण होना, माईग्रेन, धूप में रहना, आंखों की समस्या, गर्मी, सिर की ताजा चोट, हृदय के रोग, अधिक संभोग करना, अर्बुद, खून में कैल्शियम का स्तर बिगड जाना और महिलओं में मासिक धर्म की खराबी हो जाना ये आम बात हो गई है।

इसके लिए ये उपाय करे-

  • 10 ग्राम गेहूं
  • 5 ग्राम पोस्तदाना
  • 7 बादाम
  • 7कद्दू के बीज
  • इन सबको लेकर थोडे से पानी के साथ पीसकर इनका पेस्ट बनालें।
  • अब कढाई में थोडा सा गाय का घी गरम करें और इसमें 2-3 लोंग पीसकर डाल दें।
  • अब बनाया हुआ पेस्ट इसमें डालकर एक मिनट आंच दें।
  • इस मिश्रण को एक गिलास दूध में घोलकर पियें।
  • चक्कर आने में असरदार स्वादिष्ट नुस्खा है।

हमेशा करे –

(1) नारियल का पानी रोज पीने से चक्कर आना बंद हो जाते हैं।

(2) सूखा आंवला पीस लें। दस ग्राम आंवला चूर्ण और 10 ग्राम धनिया का पावडर एक गिलास पानी में डालकर रात को रख दें। सुबह अच्छी तरह मिलाकर छानकर पी जाएं। चक्कर आने में आशातीत लाभ होगा।

(3)काली-मिर्च चबाने से जी नहीं मिचलाता और चक्कर नहीं आते।

(4) खरबूजे के बीज की गिरी गाय के घी में भुन लें। इसे पीसकर रख लें। 5 ग्राम की मात्रा में सुबह शाम लेने से चक्कर आने की समस्या से मुक्ति मिल जाती है।

(5) अदरक लगभग 20 ग्राम की मात्रा में बारीक काटकर पानी में उबालें आधा रह जाने पर छानकर पीयें। अदरक का रस भी इतना ही उपकारी है।

सब्जी बनाने में भी अदरक का भरपूर उपयोग करें। चाय बनाने में अदरक का प्रयोग करें।अदरक किसी भी तरह खाएं चक्कर आने के रोग में आशातीत लाभकारी है।

(6) तुलसी के 20 पत्ते पीसकर शहद मिलाकर चाटने से चक्कर आने की समस्या काफ़ी हद तक नियंत्रण में आ जाती है।

(7) 15 ग्राम मुनक्का देशी घी में भुनकर उस पर सैंधा नमक बुरककर सोते समय खाने से चक्कर आने का रोग मिट जाता है।

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply