जानिए होंठों को हरे धनिया से कैसे गुलाबी करें

0

गुलाबी होंठ चेहरे को चमकदार बनाकर खूबसूरती मे चार चांद लगा देते हैं। होंठ चेहरे का नाजुक हिस्‍सा है जिनमें फैट ग्‍लैंड नहीं होते, इसलिए होंठों को कोमल बनाये रखने के लिए बाहरी ख्‍याल रखना जरूरी होता है। लेकिन कई बार सूरज की हानिकारक यू वी किरणें, धूम्रपान, एलर्जी, हार्मोन असंतुलन, निर्जलीकरण, विटामिन और फैटी एसिड की कमी और बढ़ती उम्र के कारण होंठ काले होने लगते हैं।

वैसे तो होंठों के कई तरह के लिपबाम उपलब्ध हैं लेकिन इनके हानिकारक असर से होंठों का कालापन और भी बढ़ने लगता है। इसलिए होंठों को गुलाबी बनाने के लिए घरेलू उपायों को अपनाना चाहिए। होंठों को आप शानदार घरेलू उपाय यानी हरे धनिया और गुलाब जल की मदद से गुलाबी बना सकते हैं। होंठों को मुलायम और गुलाबी बनाने का स्वस्थ, प्राकृतिक और आसान तरीका है क्‍योंकि यह मॉश्‍चराइजर के रूप में काम करता है। धनिया एक बहुत अच्छा एंटी- बैक्टीरियल एजेंट है और गुलाब जल एक क्लीजर के रूप में काम करता है। आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से जानें कि हरे धनिया की पत्तियों की मदद से होंठों को कैसे गुलाबी बनाया जा सकता है।

होंठों को गुलाबी बनाये धनिया पत्तियां और गुलाबजल

  • हरे धनिये की कुछ पत्तियों को लें।
  • फिर इन पत्तियों में थोड़ा सा गुलाबजल मिलाकर अच्‍छी तरह से पीस कर इसका बारीक पेस्‍ट बना लें।
  • अब इस पेस्‍ट को होंठों पर लगाकर 10 मिनट तक अच्‍छी तरह से मसाज करें।
  • 10 मिनट की मसाज के बाद 10 मिनट इस पेस्‍ट को ऐसे ही होंठों पर लगा रहने दें।
  • फिर होंठों को गुनगुने पानी से धो लें। धोने के लिए साबुन या फेस वॉश का प्रयोग न करें।
  • इसके बाद होंठों पर ऑलिव ऑयल, नारियल तेल या देसी घी लगा लें, इससे होंठ नर्म हो जाएंगे।
  • नियमित रूप से इस उपाय को करने से आपके गहरे काले होंठों को रंग धीरे-धीरे गुलाबी रंग में बदल जाएगा।
  • आप चेहरे पर चमक लाने के लिए भी इस उपाय को इस्‍तेमाल कर सकते हैं। लेकिन इस पेस्‍ट में आपको थोड़ा सा शहद भी मिलाना होगा।

इस आसान घरेलू नुस्खे को अपनाकर अपने होंठों को गुलाबी और आकर्षक बना सकते हैं। तो देर किस बात की आज ही ट्राई करें।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।

Leave a Reply