डायबिटीज से लेकर पथरी तक को ठीक कर सकता है ये तेजपत्ता!

0

तेजपत्ता डायबिटीज को सही करने के साथ ही हमें अन्य कई गंभीर बीमारियों से भी छुटकारा दिलाता है आईये जानते हैं –

तेजपत्ते के फायदे

कई लोग समझते हैं कि तेजपत्ता सिर्फ सब्जी और चिकन बनाने के काम आता है। जबकि ऐसा नहीं है। तेजपत्ता पूरी तरह से औषधीय गुणों से भरपूर है। इसमें प्रचुर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट, कॉपर, पोटेशियम, कैल्शियम, सेलेनियम और आयरन पाए जाते हैं। यह सभी हमारे शरीर को सुचारू रूप से चलाने के लिए बहुत जरूरी हैं। आज हम यहां आपको बताएंगे कि तेजपत्ता डायबिटीज को सही करने के साथ ही हमें अन्य कई गंभीर बीमारियों से भी छुटकारा दिलाता है।

सही करने के साथ ही हमें अन्य कई गंभीर बीमारियों से भी छुटकारा दिलाता है।

डायबिटीज के लिए रामबाण

डायबिटीज काफी हद तक हमारे लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारी है। कई बार जैनेटिक समस्या होने के चलते भी यह रोग हो जाता है। यह बहुत गंभीर रोग है, लेकिन अगर इससे बचने के लिए रोज छोटे-छोटे कदम उठाएं तो इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है। डायबिटीज में तेजपत्ता एक दवाई की तरह काम करता है। अगर इसका खाने में या उबाल कर नियमित सेवन किया जाए तो डायबिटीज को कंट्रोल में रखा जा सकता है। सुबह तेजपत्ते के नर्म नर्म 5 या 6 पत्तों को तोड़ ले (जो हल्का हरा रंग के होते हैं ) light green leaves और उसको खाली पेट धीरे धीरे चबा ले ऐसा २ या ३ महीने करते रहने से आपको काफी फायदा होगा

पथरी के लिए है फायदेमंद

अनियमित और दूषित खानपान के चलते आजकल पेट में पथरी होना एक आम समस्या हो गई है। इस रोग में पेट में बहुत दर्द होता है। पथरी से परेशान लोगों के लिए तेजपत्ता बहुत काम की चीज है। इसके सेवन से पथरी का काफी हद तक कटाव होता है। तेजपत्ते को उबाल कर या खाने में सेवन किया जा सकता है।

नींद की कमी होती है दूर

अत्यधिक तनाव और चिंता के चलते नींद की कमी होना लाजमी है। एक सर्वे के अनुसार जो महिलाएं घर में रहती हैं उन्हें अधिक तनाव की समस्या रहती है। क्योंकि वह अपनी इच्छाओं और बातों को ज्यादा शेयर नहीं कर पाती है। तेजपत्ते के सेवन से नींद की कमी दूर होती है। रात को सोने से पहले तेजपत्ते के तेल की कुछ बूंदों को पानी में मिलाकर पीने से अच्छी नींद आती है।

दर्द में राहत दिलाएं

कई बार अचानक हमारे शरीर के अंगों में दर्द होने लगता है। हो सकता है इसका कारण तनाव और थकान हो सकती है। दर्द में राहत के लिए भी तेजपत्ता एक कारगर उपाय है। इसके अलावा अगर तेज सिर दर्द हो रहा हो तो भी इसके तेल से मसाज करना अच्छा रहता है।

पाचन क्रिया होती है दुरुस्त

आॅफिस और कॉलेज की जल्दबाजी में कई लोग समय पर सुबह का नाश्ता नहीं कर पाते हैं। जिसके चलते उन्हें बाद में जो मिलता वो खा लेते हैं। इस प्रक्रिया का सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता है। जो लोग अक्सर ऐसा करते हैं उनकी पाचन क्रिया काफी कमजोर हो जाती है। तेजपत्ते का सेवन पाचन क्रिया को दुरुस्त करता है। पाचन से जुड़ी अन्य समस्याओं में भी तेजपत्ता काफी फायदेमंद है। चाय में तेजपत्ते का इस्तेमाल करके कब्ज, एसिडिटी और मरोड़ जैसी समस्याओं से राहत मिलती है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply