हर जगह होगा आपका मान-समान सिर्फ करे तांबे के लोटे का ये एक उपाय

0

रविवार का दिन सूर्य पूजा के लिए उत्तम माना जाता है। इस दिन सूर्यदेव को जल चढ़ाने, मंत्र का जाप करने से बल, बुद्धि, विद्या, वैभव, तेज, ओज, पराक्रम के साथ घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान अौर गरीबी से छुटकारा मिलता है। वैसे तो प्रतिदिन सूर्य को जल चढ़ाना चाहिए परंतु रविवार के दिन इसका विशेष, महत्व है। सूर्य को जल चढ़ाने से बहुत लाभ मिलता है।

  1. ज्योतिष के अनुसार सूर्य को जल चढ़ाने से घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान में बढ़ौतरी होती है अौर सूर्य के कुडंली दोषों से मुक्ति मिलती है।

2. सूर्य को तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं। लोटे में शुद्ध जल भरकर चावल, कुमकुम, फूल अौर गुड़ आदि पूजन सामग्री भी डाल लेना चाहिए।

3. जल चढ़ाते समय सूर्य मंत्रों का जाप करते रहना चाहिए।

ऊँ सूर्याय नम:ऊँ भास्कराय नम: ऊँ रवये नम:ऊँ आदित्याय नम:ऊँ भानवे नम:

4. सुबह के समय जल्दी उठने से ताजी हवा और सूर्य की किरणों से हमारे स्वास्थ्य को लाभ होता है।

5. इसके अतिरिक्त सूर्य को जल चढ़ाते समय सीधे नहीं देखना चाहिए। जल चढ़ाते समय सूर्य को पानी के बीच से देखना चाहिए। इस प्रकार करने से आंखों की नेत्र ज्योति बढ़ती है।

6. सूर्य की किरणों में विटामिन डी के गुण होते हैं। उगते सूर्य को जल चढ़ाने से व्यक्ति तेजस्वी होता है। विटामिन डी से त्वचा में आकर्षक चमक आती है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply