शुगर को जड़ से खत्म करे 100% गारंटी के साथ

0

आज कल मधुमेह यानी शुगर की बीमारी होना एक आम सी बात बन हैं। हर घर में किसी न किसी को शुगर की बीमारी होती है वैसे तो पुरे विश्व में शुगर तेजी से फैलते जा रही है लेकिन भारत में इसके रोगियों की संख्या दूसरे देशों की तुलना में कहीं अधिक है। अकेले भारत में लगभग 6 करोड़ से भी अधिक लोगों को शुगर की बीमारी है।

शुगर के रोग में रोगी के शरीर में इंसुलिन प्राकृतिक रूप से नहीं बनता और शरीर में शुगर की मात्रा अधिक हो जाती हैं। जिसको नियंत्रण में रखने के लिए रोगी को इंसुलिन के टिके लगाने पड़ते है या इसको नियंत्रण में रखने के लिए दवाई का सेवन करना पड़ता है।

लेकिन क्या आप जानते है की आयुर्वेद में बहुत सारे ऐसे घरेलु उपाय है जिनको अपनाकर आप अपनी शुगर को जड़ से खत्म भी कर सकते है। वैसे तो बहुत सारे घरेलु उपाय होते है लेकिन आज हम बात करने जा रहे है की कैसे हम आम के दो पत्तों से अपनी शुगर को जड़ से खत्म कर सकते है। जी हाँ आपने बिल्कुल सही सुना आम के पत्तो के सेवन से हम शुगर को जड़ से खत्म कर सकते है। इसके लिए आपको इसका उपयोग एक दवाई की तरह करना होगा इसको बनाने के लिए जो आवश्यक सामग्री चाहिए वह कुछ इस प्रकार हैं। आपको आम की पत्तियाँ चाहिए ताज़ी या सुखी हुई।

इन पत्तियों की औषिधि तैयार करने की दो प्रयोग विधि है आपको जो सुगम लगे उसे अपनाये।

औषिधि बनाने की विधि और सेवन करने का तारिका :

  1. प्रयोग विधि – १ : आप आम की ताजी पत्तियों को तोड़ कर धुप में छिपा ले और सूखने पर इनको पीसकर इसका पाउडर बना लें आपका घरेलु उपाय बनकर तैयार हैं। शुगर को जड़ से खत्म करने के लिए सुबह खाली पेट एक चम्मच इस पाउडर का सेवन पानी के साथ करें। ऐसा करने से आपका शुगर बहुत ही जल्दी समाप्त हो जाता है।
  2. प्रयोग विधि – २ : अगर आप किसी कारण पाउडर का सेवन नहीं कर सकते तो आप आम की ताजा पत्तियों को रात में एक गिलास पानी में भिगोकर रखदे। सुबह उठकर इसको अच्छे से उबाल कर इसको छानकर इसका सेवन सुबह खाली पेट करें। ऐसा करने से तेजी से शुगर नियंत्रण में हो जाता है और कुछ ही दिनों में आपका शुगर बिल्कुल खत्म हो जाता हैं।

अगर कोई भी शुगर का रोगी इन दोनों उपाय में से किसी भी एक को अपनाता है तो बहुत ही जल्द वह अपने शुगर से छुटकारा पा सकता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply