जाने पत्ता गोभी के पत्तो को छाती और टांगों पर लगाकर सोने से क्या होता है …

0

पत्ता गोभी के पत्ते हमे कई तरह के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते है पत्ता गोभी एक मशहूर सब्जी होने के साथ साथ बीमारियों को शरीर से बाहर खीचने के लिए एक चुंबक का काम भी करती है।

आइये जानते है उनके बारे में-

थाइरोइड ग्रन्थि

थाइरोइड ग्रन्थि गले के निचले हिस्से में स्थित होती है। यह ग्रन्थि पाचन तंत्र के लिए हार्मोन्स पैदा करने का काम करती है। इस ग्रन्थि के कार्य को सही बनाये रखने के लिए पत्ता गोभी के पत्तो को रात को गर्दन पर लपेट ले उसे किसी शाल या बैंडेज से ढक ले।

घाव की वजह से सूजन होना

अगर आपको टांगों हाथो और टखनों आदि जगहों पर चोट लगने की वजह से सूजन हो गयी है। तो ऐसे में पत्ता गोभी के पत्ते आपके लिए रामबाण हो सकते है सूजन वाली जगह पर पत्ता गोभी के फ्रेस पत्ते लपेट ले और उन्हें किसी बैंडेज या किसी पट्टी से ढक ले।

बार बार सिरदर्द होना

व्यस्त दिनचर्या के चलते थकान और तनाव की वजह से सर में दर्द होना एक आम बात हो चूका है। पत्ता गोभी के पत्तो से आपके सिरदर्द का स्थाई इलाज हो सकता है। पत्ता गोभी के पत्तो को रत को पाने माथे पर रख ले और उसे किस टोपी से ढक कर सो जाये सुबह मिलने वाले नतीजे आपको हैरान कर देंगे।

स्तनपान की वजह से दर्द

कई औरतो को स्तनपान की वजह से काफी दर्द महसूस होता है। स्तनपान का दर्द पत्ता गोभी से ठीक हो सकता है पत्ता गोभी के फ्रेस पत्तो को अपने स्तन से लगा कर के रखे जब तक की दर्द ठीक नही हो जाता है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply