पूरी तरह से गंजे हो चुके व्यक्ति के भी जड़ो से नए बाल फूटने लगते है इस पत्ते के प्रयोग से

0

आजकल अधिकतर युवा बाल सफ़ेद होने व असमय गिरने की समस्या से परेशान हैं। इस समस्या के कारण बहुत से युवा समय से पहले ही ज्यादा उम्र के दिखने लगते हैं। किसी व्यक्ति के बालों का समय से पहले झड़ जाने का रोग गंजापन कहलाता है। बहुत से लोगों में गंजेपन का रोग अनुवांशिक कारणों से भी होता है जैसे किसी व्यक्ति के पुराने पूर्वजों के समय से ही गंजेपन का रोग होता है। यह रोग साबुन से सिर को धोने से, एक-दूसरे का कंघा इस्तेमाल करने से या गलत शैंपू को सिर में लगाने से हो जाता है।आज हम आपके लिए लाये हैं एक ऐसा प्रयोग जिससे आपकी बालो की सभी समस्याओं से उबर पाएंगे वो भी बड़ी आसानी से।

आवश्यक सामग्री 
  1. चुकन्दर के पत्ते :  50  ग्राम
  2. नारियल का तेल : 10 दिन तक नीले कांच की बोतल में सूरज की धूप में रखे।
चमत्कारी चिकित्सा
  • चुकन्दर के पत्ते का रस सिर में मालिश करने से गंजेपन का रोग मिट जाता है और सिर में नये बाल आना शुरू हो जाते हैं। बंद जड़ो से नए बाल निकलने लगते है।
  • गंजेपन के रोग में सूर्य किरण और रंग चिकित्सा के माध्यम से तैयार सूर्य चार्ज नारियल का नीला तेल दिन में 2 बार सिर पर अच्छी तरह से लगाने से लाभ होता है। इसके साथ ही नीले सैलोफिन कागज से 5-10 मिनट सूर्य की रोशनी देने से गंजापन दूर होकर सिर में नए बाल पैदा हो जाते हैं।
किन बातो का रखना है ख्याल 

चुकन्दर के बीजों का अधिक मात्रा में सेवन आमाशय के लिए हानिकारक होता है। चुकन्दर का रस उपयोग करते समय ध्यान रखे कि यह आंखों में ना जाये क्योंकि ये हानिकारक हो सकता है।

बालों की सभी समस्याओं के लिए 12 कारगर घरेलु उपाय

  1. प्याज का पेस्ट : कुछ दिनों तक, नहाने से 1/2 घंटा पहले रोजाना सिर में प्याज का पेस्ट लगाएं। इससे सफेद बाल ( Safed baal ) काले और लम्बे होने लगेंगे।
  2. नारियल तेल या जैतून के तेल : 1/2 कप नारियल तेल या जैतून के तेल को हल्का गर्म करें। इसमें 4 ग्राम कर्पूर मिला कर इस तेल से मालिश करें। इसकी मालिश सप्ताह में एक बार जरूर करनी चाहिए। कुछ ही समय में रूसी खत्म हो जाएगी, बाल भी काले और लम्बे रहेंगे।
  3. गाय का शुद्ध देसी घी : प्रतिदिन गाय का शुद्ध देसी घी से सिर की मालिश करके भी सफेद बालों को काला किया जा सकता है ।
  4. भृंगराज और अश्वगंधा और नारियल तेल : भृंगराज और अश्वगंधा की जड़ें बालों के लिए वरदान मानी जाती हैं। इनका पेस्ट नारियल के तेल के साथ बालों की जड़ों में लगाएं और 1 घंटे बाद गुनगुने पानी से अच्छीं तरह से बाल धो लें। इससे भी बाल काले होते है।
  5. आंवले के पाउडर में नींबू का रस : आंवले के पाउडर में नींबू का रस मिलाकर उसे नियमित रूप से लगाएं । शैंपू के बाद आंवला पाउडर पानी में घोलकर लगाने से भी बालों लम्बे तो होंगे साथ में इनकी कंडीशनिंग भी होती है, और बाल भी काले होते है । आंवला किसी ना किसी रुप मे सेवन भी अवश्य करते रहे ।
  6. कच्चे पपीता का पेस्ट : सप्ताह में कम से कम 3 दिन दस मिनट का कच्चे पपीता का पेस्ट सिर में लगाएं। इससे बाल नहीं झड़ेंगे और डेंड्रफ भी नहीं होगी और सफेद बाल ( Safed baal ) काले भी होने लगेंगे ।
  7. निम्बू और आंवला : निम्बू के रस में आंवला पाउडर मिलाकर उसे सिर पर लगाने से भी सफेद बाल काले हो जाते हैं।
  8. अदरक और शहद : अदरक को कद्दूकस कर शहद के रस में मिला लें। इसे बालों पर कम से कम सप्ताह में दो बार नियमित रूप से लगाएं। बालों का सफेद होना कम हो जाएगा।
  9. दही और टमाटर – नींबू रस और नीलगिरी : दही के साथ टमाटर को पीस लें। उसमें थोड़ा-सा नींबू रस और नीलगिरी का तेल मिलाएं। इससे सिर की मालिश सप्ताह में दो बार करें। बाल लंबी उम्र तक काले और घने बने रहेंगे।
  10. तिल का तेल : जाड़े अर्थात ठंड में तिल अधिक से अधिक खाएं। तिल का तेल भी बालों को काला करने में मदद करता है।
  11. काली मिर्च, दही और नींबू रस : आधा कप दही में चुटकी भर काली मिर्च और चम्मच भर नींबू रस मिलाकर बालों में लगाए। 15 मिनट बाद बाल धो लें। बाल सफेद से फिर से काले होने लगेंगे।
  12. कारगर चमत्कारी पेस्ट : एक कटोरी मेहंदी पाउडर लें, इसमें दो बड़े चम्मच चाय का पानी, दो चम्मच आंवला पावडर, एक चम्मच नीबू का रस, दो चम्मच दही, शिकाकाई व रीठा पावडर, एक अंडा (अगर आप लेना चाहे तो ), आधा चम्मच नारियल तेल व थोड़ा-सा कत्था। यह सब चीजें लोहे की कड़ाही में डालकर पेस्ट बनाकर रात को भिगो दें। इसे सुबह बालों में लगाए।फिर दो घंटे बाद धो लें। इससे बाल बिना किसी नुकसान के काले और लम्बे हों जाएँगे। ऐसा माह में कम से कम एक बार अवश्य ही ही करें।
SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply