मखाने खाने से डायबिटीज, किडनी, पाचन, मर्दाना कमजोरी सहित अनेक रोगों में जादुई फायदे

0

मखाने का इस्तेमाल नमकीन, मिठाई से लेकर खीर बनाने के लिए होता है। मखाने से खीर व मिठाई का स्वाद बढ़ जाता है। लेकिय आप में से बहुत कम लोग जानते हैं कि मखाना पोषक तत्वों की भूरपूर मात्रा होती है जो आपके कई रोगों को भी ठीक कर सकता है। शरीर को सेहतमंद और ताकत देने के अलावा भी इसके कई फायदे हैं।

सबसे पहले जानते हैं मखाने के गुण

माखाने में पौष्टिक तत्वों की भरमार होती है। मखाने में कैल्शियम, विटामिन बी और आयरन होता है।

डायबिटीज में लाभदायक

जिन लोगों को मधुमेह की समस्या है उनके लिए मखाना किसी दवा से कम नहीं है। मखाना खाने से इंसुलिन का बहाव शरीर में कम हो जाता है। मखाना खट्टा और मीठा होता है। जिसे खाने से डायबिटीज की रोकथाम होती है।

किडनी के लिए लाभदायक

मखाना खाने से किडनी स्वस्थ रहती है। क्योंकि इसमें स्पलीन को डिटाक्सिीफाइड करने की क्षमता होती है। और इस वजह से किडनी को पोषक तत्व ठीक मात्रा में मिलते रहते हैं। किडनी में जमी गंदगी से लेकर बीमारी तक दूर करता है मखाना।

पाचन और पेट संबंधी परेशानी

मखाना खाने से पेट और पाचन तंत्र दोनों ठीक रहता है। हर उम्र के लोगों को यह आसानी से पच जाता है। जिन लोगों को भूख नहीं लगती है उनहें मखाना जरूर खाना चाहिए। यह भूख को बढ़ाता है। दस्त या पेचिश में मखाने को देसी घी के साथ भूनकर खाने से राहत मिलती है।

अच्छी नींद और तनाव में मखाना

रात को दूध में मखाने डालकर खाने से आपको अच्छी नींद आती है। यह शरीर की कमजोरी को दूर करता है साथ ही तनाव को भी खत्म कर देता है।

दिल की बीमारी में मखाना

मखाने में एस्ट्रीजन गुण होते हैं जो आपको दिल के रोगों से बचाता है। मखाना दिल की सेहत के लिए किसी औषधि से कम नहीं है

दर्द में दवा का काम करता है मखाना

हड्डियों का दर्द, कमर दर्द, जोड़ों का दर्द या घुटने का दर्द। मखाना खाने से ये दर्द ठीक होने लगते हैं। मखाने में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है। यह शरीर में कैल्शियम की कमी को भी पूरा करता है।

बढ़ती उम्र को रोकता है: एंटी-एजिंग गुण

मखाने में बढ़ती उम्र के प्रभाव को रोकने की क्षमता होती है। मखाना एंटी-एजिंग के साथ एंटी-आक्सीडेट से भी भरपूर होता हैं जो उम्र को रोकने में सहायता करता है। जिस वजह से आप लंबे समय तक जवां बने रहते हो। झुर्रियां और बालों का सफेद होना भी मखाने से कम हो जाते हैं।

कमजोरी दूर करना

मखानों का नियमित सेवन करने से शरीर की कमजोरी दूर होती है और हमारा शरीर सेहतमंद रहता है। मखाने में मौजूद प्रोटीन के कारण यह मसल्स बनाने और फिट रखने में मदद करता है।

नपुंसकता

वैवाहिक जीवन और पति-पत्नी के रिश्ते को दाँव पर लगा देता है। लेकिन इस बात के लिए निराश होने की ज़रूरत नहीं हैं, आप घर पर ही आसानी से आयुर्वेदिक इलाज के द्वारा इस परेशानी से मुक्ति पा सकते हैं। मखाना (lotus seed) एक ऐसा आयुर्वेदिक हर्ब है जो बड़े ही स्वादिष्ट तरीके से आपके दाम्पत्य जीवन में मधुरता को लौटा लायेगा। मखाने में जो प्रोटीन,कार्बोहाइड्रेड, फैट, मिनरल और फॉस्फोरस आदि पौष्टिक तत्व होते हैं वे कामोत्तेजक को बढ़ाने का काम करते हैं। साथ ही शुक्राणुओं के क्वालिटी को बेहतर बनाने के साथ-साथ उसकी संख्या को भी बढ़ाने में सहायता करते हैं।

अन्य फायदे

  1. मखाना शरीर के अंग सुन्‍न होने से बचाता है तथा घुटनों और कमर में दर्द पैदा होने से रोकता है।
  2. प्रेगनेंट महिलाओं और प्रेगनेंसी के बाद कमजोरी महसूस करने वाली महिलाओं को मखाना खाना चाहिये।
  3. मखाना का सेवन करने से शरीर के किसी भी अंग में हो रही दर्द से राहत मिलती है।
  4. मखाना का सेवन करने से शरीर में हो रही जलन से भी राहत मिलती है।
  5. मखाना को दूध में मिलाकर खाने से दाह (जलन) में आराम मिलता है। ६-मखानों के सेवन से दुर्बलता मिटती है तथा शरीर पुष्ट होता है।
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply