जोड़ों के दर्द में रामबाण है नीम्बू का छिलका

0

आजकल जोडो़ का दर्द (Joint Pain) होना आम बात बन चुकी है जो कि लोंगो को उनकी 30 की उम्र से शुरु हो जाता है। यह एक प्रकोप की तरह है जो आजकल के छोटे उम्र के युवाओं को भी होने लग गया है। जोड़ का दर्द पैरों के घुटनों, कुहनियों , गदर्न, बाजुओं और कूल्‍हों में हो सकता है। व्‍यायाम के अलावा आपका खान-पान पौष्टिक और हेल्‍दी होना चाहिये, जो जोड़ के दर्द को कम कर के तुरंत आराम दिलाए।

शायद आपको यह पता ना हो आपके घर में एक ऐसा फल (Fruit) है जो पुराने से पुराने जोड़ों के दर्द CHRONIC JOINT PAIN को ख़त्म कर देगा | जिस फल की हम बात कर रहे है वो कई तरेह के पोषक तत्वों से भरपूर है जैसे के :- magnesium, potassium, calcium, folic acid, pectin, phosphorus, bioflavonoid, vitamin A, C, B1, B6 और इस फल का नाम है ‘निम्बू’ – Lemon | वैसे तो आपने निम्बू के फ्यादों के बारे जरुर सुना होगा लेकिन आपको किसी ने यह नहीं बताया होगा के नीम्बू का छिलका जोड़ो के दर्द से परेशान मरीजों के लिए वरदान है | आज हम आपको बताएगे कैसे आप नीम्बू के छिलके से जोड़ो का पुराना दर्द भी दूर कर सकते हो |

सामग्री

  • 2 नीम्बू के छिलके
  • ओलिव आयल

विधि

  • पहले नीम्बू के छिल्को को ग्लास जार में डाल लीजिये और फिर उसमे थोडा सा ओलिव आयल डाल दीजिये और ग्लास जार को अच्छी तरेह बंद करने के बाद दो हफ्तों के लिए इसे वैसे ही छोड़ दें |
  • दो हफ्तों के बाद आपका मिश्रण तयार है किसी भी रेशमी कपड़े में थोडा सा यह मिश्रण डाल कर प्रभावित जगेह पर लगायें तथा बैंडेज से कवर कर लें और पूरी रात इसे अपना काम करने दें |

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply