दिवाली से पहले यहाँ चुपचाप रख दें झाड़ू, इतना आएगा पैसा संभाल नहीं पाएंगे झाड़ू के टोटके

0

हिन्दुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक दिपावली को बड़े घूमधाम से मनाया जाता है। लोग अपने घरों को दीपों और मोमबत्ती से सजाते है और जमकर आतिशबाजी करते हैं। वहीं दिवाली से पहले धनतेरस पर लोग जमकर खरीदारी करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि दिवाली के दिन झाड़ू खरीदना शुभ माना जाता है।

जी हाँ ऐसा माना जाता है कि दिवाली के दिन झाड़ू खरीदकर अगले दिन इसे इस्तेमाल करने से घर में दरिद्रता वास नहीं करती है। इसके साथ  ही साथ वास्तु दोष भी ख़त्म होते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार झाड़ू का अपमान नहीं करना चाहिए। जिस घर में झाड़ू का  अपमान होता है वहां लक्ष्मी रूठ जाती हैं। वहीं ऐसी भी मान्यता है कि दिवाली के दिन शुभ मुहूर्त में झाड़ू दान करनी चाहिए।

झाड़ू को हमेशा छुपाकर उत्तर की दिशा में रखना चाहिए क्योंकि इसे खुला रखने से अपशकून माना जाता है। मुख्य द्वार पर झाड़ू को कभी नहीं रखना चाहिए।

झाड़ू को इस्तेमाल करने के बाद कभी खड़ा करके नहीं रखना चाहिए। पूजा घर, भंडार घर में झाड़ू को नही रखना चाहिए। कभी भी भूलकर झाड़ू को बेडरूम में नहीं रखना चाहिए क्योंकि वैवाहिक जीवन में मनमुटाव शुरू हो जाते हैं।

वहीं पूराने झाड़ू को घर में नहीं रखना चाहिए और नयी झाड़ू शनिवार के दिन लेनी चाहिए। कभी भूलकर झाड़ू को लांगना नहीं चाहिए और कभी भी जलाना नहीं चाहिए। इससे माँ लक्ष्मी नाराज हो जाती है।

नए घर में प्रवेश के दौरान भी झाड़ू लेकर प्रवेश करना चाहिए इससे कभी घर में दरिद्रता वास नहीं करती है।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply