दिल का दौरा जिंदगी में कभी नहीं पड़ेगा ऐसा चमत्कारी नुस्खा है ये

1

अगर आपको जरा सी भी हार्ट में दर्द पसीने आना ,सर पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होना ,हमेशा कमजोरी महूसस होना ,गर्मी लगना ,रात में जोर जोर से खराटे लेना ,अचानक सांस लेने में तकलीफ होना ,दिल की धड़कन का तेज होना ,इंडिगेशन और बार बार उलटी का होना या फिर ऐसा लगना की सीने पर कुछ भार महूसस हो रहा तो ये हार्टअटैक के लक्षण है इन्हे इग्नोर न करे |आपको पता महिलायो में हार्ट अटैक के अलग लक्षण होते जैसे त्वचा का चिपचिप होना ,सीने में जलन ,असमान्य रूप से थकान होना |

हम डॉक्टर के पास जाते तो डॉक्टर सीधा एंजियोप्लास्टी  करने के लिए बोलता जिसका खर्च बहुत होता |इस आपरेशन में डॉक्टर एक स्प्रिंग जो एक पेन के स्प्रिंग जैसा होता जिसे स्टेंट  |

अगर ये स्टेंट डाल भी दे कुछ टाइम के बाद इसके दोनों साइड वसा जमने लगती फिर से हार्ट अटैक हो सकता |तो आइये दोस्तों हम बताते आपको हार्ट अटैक से कैसे बचा जाता जिससे हमे हार्ट अटैक जैसी प्रॉब्लम का सामना ही न करना पड़े |आईये सीखे हार्ट अटैक से बचने का रस बनने की विधि :

लहुसन का रस

हमारे पास लहुसन का रस होना चाहिए इसमे ब्लड प्रेस्सर व कैलेस्ट्रोल को कम करने की ताक़त होती |इसमे एल्लीसिन नामक तत्व पाया जाता जोकि हार्ट अटैक की ब्लॉकेज को खोल देता इसके सेवन से शरीर का  ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहता |

नीबू

जो अपने आप में गुणो का खजाना  है |इसमे भी एल्लीसिन होता जो कॉलस्ट्रॉल को कम करता |नीबू में विटामिन C प्रचूर मात्रा में होता जोकि हमारा इम्मयून सिस्टम को भी ठीक रखता |इससे हमारे शरीर में रक्त संचार भी ठीक प्रकार से होता  |

अदरक का रस

अदरक के लिए कहा जाता इसमे पानी की मात्रा 80 % होती |इसमे खून को साफ़ करने की ताक़त होती |जिससे हमारे शरीर में रक्त संचार अच्छी तरह से होता और यह भी शरीर की कॉलस्ट्रॉल को कम करता और खून को पतला करता |

एप्पल का सिरका

सेब का सिरका सेहत के लिए बहुत अच्छा होता |इसमे शरीर की सफाई करने का गुण पाया जाता |सेब के सिरके में एसिटिक अमल होता जो भोजन पचाने वाली नाली को हांनिकारक जीवाणु व फफूंद से बचाता |सिरके में पेकिटन भी होता जो भोजन के पचने व पोषक तत्वों का अवशोषण करने में सहायता करता |हमारे शरीर में कॉलस्ट्रॉल ,वसा व विषैले तत्वों को अवशोषित करके शरीर से भर निकालता|इसमे धयान रखने वाली बात है है की जिन्हें पेक्टिन से ELLERGY  है वो इसे यूज़ न करे |

शहद

शहद तो एक अपने आप में ही दवाई है |इसमे आयरन और विटामिन C से भरा |शहद के सेवन से हमारा दिल तंदुरस्त रहता और पाचन किरिया भी सही रहती |शहद मोटापे को कम करने की भी ताकत होती |इससे हमारे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक रहता |

अब बताते कैसे इन रसो के द्वारा हार्ट अटैक से बचा जाता और इन रसो की दवाई से हम मोटापे को भी कम कर सकते|

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

इसे बनाने की विधि :

सबसे पहले आप एक कप अदरक का रस ,एक कप लहुसन  का रस ,एक कप नीबू का रस औए एक ही कप सेब का सिरका इन सभी रसो को अच्छे से मिक्स कर लो और एक भिगोने में गैस पर चढ़ा दो जब तक चार कप का तीन कप न रह जाए | फिर गैस से उतार लो और ठंडा होने दो |ठंडा होने के बाद इसमे एक कप शहद मिला दो |अब ये दवाई तैयार हो गए आपकी इसे आप एक कांच के जार में भरकर रख लो |आप इसे सुबह ख़ाली पेट हर रोज दो चम्मच खाइये |इससे आपकी हार्ट की ब्लॉकेज ख़त्म हो जाएगी |हार्ट अटैक जैसी प्रॉब्लम का सामना नहीं करना पड़ेगा |
इस दवाई के साथ साथ आपको सुबह की सैर ,साइकिलिंग,वजन कम करना ,जायदा पानी पीना हो सके तो सुबह दो गिलास व रात को गर्म पानी पीना चाहिए |कम फैट वाली चीजे खाना  समय समय पर बीपी चेक करवाना चाहिए चाय व कॉफ़ी का सेवन कम शराब व सिगरेट का सेवन बंद तनावमुक्त रहिये \हंसो और हंसाते रहो वाली किरया अपनाये  तो देखिये हार्ट अटैक जैसी प्रॉब्लम आपके पास भी नहीं आ सकती |

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

1 COMMENT

Leave a Reply