जानिए बालों और त्वचा के लिए कपूर के 10 जबरदस्त फायदे

0

कपूर का प्रयोग हर घर में पूजा-पाठ के लिये किया जाता है। कपूर या फिर कपूर का तेल बालों तथा त्‍वचा के रोगों के लिये काफी अच्‍छा माना जाता है। यह जले कटे निशान को भी ठीक करता है। आयुर्वेदा में भी कपूर के तेल का प्रयोग काफी ज्‍यादा किया जाता है। कपूर घर में आसानी से पाया जाता है इसलिये आप इसे आराम से प्रयोग कर सकती हैं। पुरानी जोड़ों और दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए कपूर उपयोगी औषधि है।

benefits of camfor in hindi

कपूर का तेल बनाने की विधि

कपूर का तेल बनाना बहुत आसान है। वैसे तो यह बाजार में कैंफर ऑयल के नाम से ब‌िकता ही है, लेक‌िन आप घर पर ही इसे तैयार करना चाहते हैं तो नारियल तेल में कपूर के टुकड़े डालकर एक एयर टाइट डिब्बे में बंद कर दें।

आज हम आपको कपूर से होने वाले ऐसे कई फायदों के बारे में बता रहे है जो आपके स्वास्थ को ठीक रखने के साथ साथ बालों एंव त्वचा के लिये भी उपयोगी है।

त्वचा की खुजली

हमारी त्वचा पर किसी भी प्रकार की जलन या खुजली हो तो आप तुरंत ही कपूर को पानी के साथ मिलाकर उस प्रभावी क्षेत्र पर लगा दे इसके अलावा कपूर को आप तेल के साथ मिलाकर लगायेगे तो और भी ज्यादा असरदार साबित होगा। इससे आपको खुजली जैसी समस्या से जल्द ही छुटकारा मिल जायेगा।

गठिया रोग में

गठिया के दर्द में बहुत परेशानी होती है। जो लोग गठिया के दर्द से परेशान हैं वे कपूर के तेल से गठिया वाली जगह पर मालिश करें। इससे तुरंत आराम मिलता है।

संक्रमणों को दूर करने में

अक्सर हम देखते है कि जब हमारे पैर पानी में ज्यादा रहते है तो उनमें अत्याधिक नमी होने से पैरों में सफेद फफूंद सी पड़ जाती है यह पैरो में बढ़ते संक्रमण के कारण होता है। जिससे पैरों में फंगल संक्रमण बढ़ने लगता है। इस संक्रमण को दूर करने के लिये आप कपूर का इस्तेमाल कर इस समस्या से छुटकारा पा सकती है।

जले या कटे के निशान को दूर करने के लिये

त्वचा पर किसी भी प्रकार के दाग व धब्बे को दूर करने के साथ कपूर का उपयोग कटे व जले हुए निशान को ठीक करने के लिए भी किया जा सकता है। इसका उपयोग करने के लिये आप थोड़े से पानी में कपूर के टुकड़े को मिलाकर उस जगह पर लगाये जहां का हिस्सा आपका जल या कट गया है। ये सूजन को दूर करने के साथ उस स्थान पर तुरंत राहत पहुंचाने का काम करता है।

मुहांसों को दूर करने के लिए

चेहरे पर कील मुहांसों कई गहरे दाग छोड़ जाते है। इस समस्या से निजात पाने के लिए कपूर का तेल काफी अच्छा इलाज है। जिसका उपयोग करने से चेहरे को दाग धब्बे कम होकर गहरे निशान खत्म कर देता है और त्वचा को साफ सुथरा चिकना बनाने में विशेष भूमिका अदा करता है।

बालों की ग्रोथ के लिये

कपूर का तेल बालों की जड़ों को और उनकी ग्रोथ को मजबूत करने का सबसे बढ़िया प्रभावी उपाय माना जाता है। इसके लिये आप कपूर के तेल में, दही और अंडे को मिलाकर उसका मिश्रण तैयार कर बालों की जड़े पर लगाएं ये झड़े हुये बालों में दुबारा ग्रोथ करने की शक्ति प्रदान करता है। साथ ही इसकी मालिश करने से तनाव कम होता है और बालों को मजबूत कर उनका झड़ना रोकता है।

स्‍किन रेशेज और लालिमा दूर करे

यदि आप त्वचा पर लाल और बड़े निशान वाले धब्बों को लेकर काफी परेशान हो रहे है तो आपको घबराने की की आवश्यकता नही है इसके लिये आप कपूर को थोड़े से पानी में मिलाकर एक पतला सा पेस्ट तैयार कर लें और उन स्थानों पर लगाये जहां पर ये लाल लाल चकत्ते निकल रहे हो। इसमें यह आपको जल्द ही राहत पहुंचायेगा।

टूटते बालों को रोकने में

बालों का झड़ना आजकल एक बहुत ही आम समस्या बन गई है। जो हर घरों पर सुनने को मिल सकती है। बालों के जड़ो को मजबूती प्रदान करने में कपूर अहम भूमिका निभाता है। कपूर को नारियल के तेल के साथ मिलाकर मालिश करने से रक्त का संचार तीव्र गति से होता है जिससे बालों में जान जाती है और बालों का झड़ना रूक जाता है बालों को मजबूती मिलती है।

फटी एड़ियों के लिये

हमारे पैर की एड़िया जब कटी फटी हो जाती है तो उनमें दरार सी पड़ जाती है। जिससे काफी दर्द भी बना रहता है इस समस्या से निजात पाने के लिये आप कपूर को फटी एडियों की दरार में डाल दें या फिर गुनगुने पानी में थोड़ा सा कपूर डाल कर, उसमें पैर भिगो कर रख दें इसके बाद पैरों में स्‍क्रब करे इससे पैर की मृत कोशिकाये भी दूर होगी और पैर पर नई त्वचा का विस्तार होगा। ऐसा आप कुछ समय तक करते रहे और जब भी आप गुनगुने पानी में पैर डालकर धोयेगी उसके बाद उसे अच्छी तरह से सुखाकर क्रीम भी लगा लें।

जुकाम और फेफड़ों के रोग के उपचार में कपूर

यदि फेफड़ों में समस्या हो रही हो या सर्दी जुकाम लग गया हो तो ऐसे में आप कपूर को सूंघने से राहत मिलती है।

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply