रोजाना 2 से 3 इलायची खाने के फायदे जानकर आप चौंक जायेंगे!

0

इलाइची इसके स्वाद और सुगंध के कारण भारत के खानपान में खूब इस्तेमाल होती है। इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं जिनको आप शायद ही जानते हों और जिन्हें जानकर आपको हैरानी होगी। इलाइची पोटैशियम, कैल्शियम, सल्फर, लोह, मैंगनीज और मैग्नीशियम का काफी अच्छा स्त्रोत होती है। इसके साथ ही इसमें कई महत्वपूर्ण विटामिन जैसे राइबोफ्लेविन (riboflavin), नियासिन (niacin) और विटामिन सी पाए जाते हैं।

यदि इलाइची के औषधीय गुणों को देखा जाये तो इसमें रोगाणुरोधक (antiseptic), एंटीऑक्सीडेंट, आक्षेपनाशक (antispasmodic), वातानुलोभक (carminative), पचानेवाले (digestive), मूत्रवर्धक (diuretic), उत्तेजक (stimulant), भूख बढ़ाने वाले (stomachic) और टॉनिक गुण पाए जाते हैं।

चूँकि इलाइची में कई रोगनाशक, स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाली और स्वास्थ्यवर्धक क्षमताएं होती हैं इसलिए यह हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में काफी फायदेमंद साबित होती है।

इलाइची के 10 सबसे कारगर स्वास्थ्य लाभ नीचे दिए जा रहे हैं –

  1. मानसिक तनाव से निजात- यदि आप किसी भी कारण से तनाव से ग्रसित हैं तो इलाइची खाने या उसकी चाय बना कर पीने से हमारे दिमाग के हार्मोंस एक दम से बदल जाते हैं और हम तरोताजा महसूस करते हैं।
  2. इम्युनिती सिस्टम तेज करता है – यह हमारा पाचन तंत्र मजबूत करती है दोस्तों अकसर देखा जाता है की खाने के बाद पान मसाला या इलाइची या फिर सौंफ ये चीजें खाई जाती है, कभी सोचा है ऐसा क्यों होता है? ऐसा इसलिये होता है क्योंकि इनमें कुछ ऐसे पोषक तत्व पाये जाते हैं जो जल्दी से खाने को पचा देते हैं, और पेट को सही रखते हैं।
  3. जी मिचलाने में लाभकारी– उल्टी जैसा फील होने पर आप पानी में इलाइची को उबाल कर वह पानी पिये उल्टी बंद हो जाती है। काफी लोगों को बस का सफर सूट नहीं करता तो अब जब भी आपको उलटी जैसा फील हो तो एक इलाइची मुँह में रख कर उसका रस चूसते रहें | आपको अच्छा लगेगा।
  4. गले की खराश दूर करना – गला बैठ जाने या गले की खराश को दूर करने के लिये सुबह उठकर छोटी इलाइची चबा -चबा कर खाने से  गले की खराश दूर होती है ।
  5. विशाक्त तत्वों को निकाल देती है- दोस्तों हम शरीर की बाहरी सफाई का तो बड़ा ध्यान रखते हैं, लेकिन यह भूल जाते है कि हमें अंदर की सफाई भी उतनी ही जरुरी होती है जितनी बाहर की अब आप सोच रहें होंगे की बाहर की सफाई तो नहा कर हो सकती है। लेकिन अंदर की कैसे करे ? उसके लिये आपको ज्यादा कुछ नहीं करना बस एक इलाइची रोजाना खानी है जी हाँ यह हमारी किडनी से विषाक्त तत्वों को बाहर कर देती है तो हो गई ना अन्दर की भी सफाई।
  6. रक्तअल्पता को कम करती है इलायची : इलायची में मौजूद है एक महत्वपूर्ण धातु यानी तांबा भी मौजूद है जो रक्तअल्पता जैसी बीमारी से निजात दिलाता है रण पैदा हुए लक्षणों को कम करने में इलायची महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। रक्तअल्पता दूर करने के लिए इलायची पावडर को हल्दी के साथ गर्म दूध में डालकर लेना चाहिए।
  7. दिमाग और आँखों के लिये लाभकारी– 2 से 3 बादाम और 2से 3 पिस्ते लेकर इलाइची के दानों के साथ इन्हें महीन पीस लेते हैं और इस मिश्रण को हम दूध में डालकर पीते हैं तो इससे हमारी यादाश्त के साथ- साथ हमारी आँखों की रोशनी भीं बढ़ेगी साथ ही हमारे दिमाग को भी ताकत मिलेगी ।
  8. नशा कम करना- यदि आपको किसी तरह के नशे से बचना है तो आप जब तब एक इलाइची चूस ले दोस्तों नशा सिर्फ शराब का ही नहीं होता हर वो चीज जिसके बिना हम रह नहीं पाते जैसे कुछ लोगों को चाय पीने की लत होती है वह जानते है की चाय उनके लिये नुकसानदेह है। फिर भी वह चाय को चाह कर भी छोड़ नहीं पाते उनके सिर में दर्द हो जाता है। काम नहीं हो पाता तो यह भी एक तरह का नशा है तो इससे बचने कै लिये आप इलाइची का इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि इसमें कुछ ऐसे तत्त्व पाये जाते हैं जो तनाव को कम कर देते है।
  9. आँखों से पानी बहना- यदि कोई आँखों के बहने कि समस्या से ग्रसित है तो वह रोज रात को दूध में इलाइची उबाल कर पिये कुछ ही दिनों में पानी बहना बंद हो जायेगा ।
  10. यौ*न दुर्ब*लता कम करने के लिये –  आपको हैरत होगी यह जानकर कि इलाइची जैसी छोटी सी चीज से भी कामेच्छा बढ़ाई जा सकती हैं यह विज्ञान में भी साबित किया गया है। इसके लिये आपको करना ये है कि दूध में एक इलाइची उबाल कर  दूध को ठंडा करके उसमें शहद मिलाकर पीना है इससे नपुंस्क्ता दूर होती है और यौ*न क्षमता बढ़ती है।
SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply