दीपावली पर करे २० रुपए खर्च ,उम्र भर रहेगी लक्ष्मी

0

दीवाली पर महालक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए और उनका आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए लक्ष्मी पूजन हर घर में होता है। इसके अतिरिक्त कुछ ऐसी चीजें हैं जो महालक्ष्मी को बेहद प्रिय हैं। जिस घर में यह चीजें होती हैं वहां देवी लक्ष्मी साक्षात स्वरूप में वास करती हैं। तो उम्र भर लक्ष्मी को अपने घर में रखने के लिए दीपावली पर करें 20 रूपए का खर्च और घर ले आएं यह सामान-diwali-par-20-rs-se-bne-dhanwan-in-hindi

  1. धनतेरस और दिवाली के दिन नमक का पैकेट खरीद कर घर लाएं और उसे खाना बनाने में उपयोग करें इससे सारा साल लक्ष्मी कृपा बनी रहती है। दिवाली के रोज नमक के पानी का पोंछा लगाने से गरीबी दूर होती है। इसके अतिरिक्त घर के उत्तर पूर्व कोने में थोड़ा सा नमक कटोरी अथवा डिबिया में डालकर भी रख सकते हैं। इससे नकारात्मकता खत्म होगी और धनागमन के साधन बनने लगेंगे।
  2. धनतेरस के दिन साबुत धनिया खरीदें, दीपावली की रात लक्ष्मी जी के सामने साबुत धनिया रखे रहने दें। अगले दिन प्रातः साबुत धनिए को गमले में बो दें। ऐसी मान्यता है कि अगर साबुत धनिए से हरा-भरा स्वस्थ पौधा निकले तो आर्थिक स्थिति सुदृढ़ रहती है। अगर धनिए का पौधा पतला है तो सामान्य आय होती है। पीला व बीमार पौधा निकले या पौधा नहीं निकले तो आर्थिक परेशानियां आती हैं।
  3. धनतेरस के दिन कौड़ी खरीद कर घर लाएं और अटूट धन प्राप्ति हेतु दीपावली की रात्रि महालक्ष्मी का षडोषोपचार पूजन कर केसर से रंगी कौड़ियां समर्पित कर पीले कपड़े में बांधकर तिजोरी में रखें।
  4. घी में कमल गट्टे मिलाकर लक्ष्मी का भोग करने से व्यक्ति राजा जैसा जीवन जीता है। इसके अतिरिक्त 108 कमल गट्टों की माला लक्ष्मी जी पर चढ़ाने से व्यक्ति को स्थिर लक्ष्मी प्राप्त होती है। धन और बरकत के लिए कमल गट्टा की माला घर में रखें।
  5. शुभ मुहूर्त देखकर बाजार से गांठ वाली पीली हल्दी अथवा काली हल्दी को घर लाएं। इस हल्दी को कोरे कपड़े पर रखकर स्थापित करें तथा षडोशपचार से पूजन करें।
  6. लोक मान्यता के अनुसार धन‌िया, हल्दी, कमल गट्टा, कौड़ी और क्र‌िस्टल नमक को एक लाल रंग के कपड़े में बांधकर पोटली बना लें। लक्ष्मी मंदिर में जाकर इस पोटली का देवी लक्ष्मी के चरणों से स्पर्श करवाकर त‌िजोरी अथवा धन रखने के स्थान पर रखें, घर अथवा कारोबार में कभी भी धन संबंधी परेशानियां नहीं आएंगी।
SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply