ब्लड ग्रुप के अनुसार क्या खायें और क्या न खायें और रहें स्वस्थ

0

हर बल्‍ड ग्रुप का अपना एक अलग स्‍वभाव और प्रकृति होती है इसलिए हमारे खानपान का जुड़ाव हमारे बल्‍ड ग्रुप से भी होता है। कई बार हो चुकी मेडिकल स्टडी में यह देखा गया है की एसीडिटी या वजन न बढ़ना आदि समस्या आपको तब ही होती हैं जब आप अपने ब्लड ग्रुप के हिसाब से अपने डाइट चार्ट को फॉलो नहीं करते हैं इसलिए आज हम आपको बता रहें है की कैसे आप अपने ब्लड ग्रुप के हिसाब से खाये-पिये और स्वस्थ रहें।

healthy-diet-for-your-blood-type

असल में फ़ूड आइटम्स में लेक्टिन्स नामक प्रोटीन होता है जो की ब्लड के एंटीजन के साथ में रिएक्ट करता है, इसलिए ब्लड ग्रुप के हिसाब से सही फल न खाने पर भी हेल्थ प्रॉब्लम्स हो सकती है। समझने वाली बात यह है की यदि आप ब्लड ग्रुप के हिसाब से अपनी डाइट लेते हैं तो आपको ब्लड के टाइप पर ही ध्यान देना है उसके पॉजिटिव या निगेटिव होने पर नहीं, मान लीजिये आपका ब्लड ग्रुप ओ है तो सभी ओ ग्रुप वाले लोगों की डाइट एक सी ही होगी।

क्या खायें और क्या न खायें

A ब्लड ग्रुप

इस ग्रुप वाले लोगो के लिए बेजिटेरियन डाइट प्लान सबसे अच्छा माना जाता है। साबुत अनाज, बीन्स, हरी सब्जियां इस ग्रुप वाले लोग अधिक मात्र में लें लेकिन इस ग्रुप वाले लोग डेयरी प्रोडक्ट का कम मात्रा में सेवन करें।

B ब्लड ग्रुप

इस ग्रुप वाले लोग डेयरी प्रोडक्ट, साबुत अनाज, बींस आदि खा सकते है पर ऐसे लोग ऑयली सीड्स को कम खायें।

AB ब्लड ग्रुप

इस ग्रुप वाले लोग सब कुछ खा सकते हैं पर इन लोगों को अपनी डाइट को बैलेंस करना पड़ेगा यानि हर प्रकार के फूड्स आदि को एक निश्चित मात्र में लेना होगा वैसे इस ग्रुप वाले लोग A और B ग्रुप के लोगो की डाइट को फॉलो कर सकते हैं।

O ब्लड ग्रुप

O ब्लड ग्रुप वाले लोग हरी सब्जियां और फल अच्छे से खा सकते हैं पर इस ग्रुप वाले लोगों का पाचन ख़राब होता है इसलिए इनको राजमा, लोबिया तथा साबुत अनाज आदि कम खाना चाहिए।

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply