सिर्फ 5 मिनट में दांतों से कीड़ा हटाने के 7 घरेलु उपचार

0

यहां हम आपको दांतो के कीड़े का घरेलु और देसी उपचार करने के लिए कुछ ऐसे घरेलु उपाय और नुस्खे के बारे में बताएंगे जो कि आपको बिलकुल भी नुकसान नहीं पहुंचाएंगे. इनसे आपको कोई भी Side Effect नहीं होगा, और बल्कि लाभ ही होगा. क्योंकि यह दांत के कीड़े की दवा से भी ज्यादा असरकारी होते हैं.

इसके अलावा अगर आपके दांत में ज्यादा ही कीड़े है और आपको इन आयुर्वेदिक घरेलु उपचार से कोई लाभ न हो तो फिर आप अपने नजदीकी डेंटल डॉक्टर से ट्रीटमेंट करवाये. क्योंकि हो सकता हैं आपके दांत कुछ ज्यादा ही कमजोर हो गए हो तो ऐसी स्थिति में यही सही निर्णय होगा.

हां! Doctor को दिखाने से पहले आप इन्हें कुछ दिनों तक Try करके देख सकते हैं फिर जो Result आये उसके अनुसार आगे का निर्णय लें. बाकि हम यहां कुछ जानकारी देंगे जो कि दांतों को मजबूत करने में बहुत मदद करेंगी आप इन्हें हर हाल में जरूर अपनाये. अब शुरू करते है Teeth worms के बारे में बताना, यह क्यों और कैसे होते हैं.

दांत के कीड़े का उपचार

अगर आपके दांत में कीड़े लगे हैं तो इसका मतलब होता हैं कि आप खाना भी ठीक से नहीं खा पाते है, खाना खाने के बाद कुल्ला भी नहीं करते, स्वाद के अनुसार कुछ भी खा लेते हैं, मीठा ज्यादा खाते हैं आदि. इन सभी कमीयो या बातो का मतलब है कि आप अपने दांतो के प्रति लापरवाह है और अपने दांतो कि care नहीं करते है.

जरा सोचिये मुंह हमारे शरीर का सबसे खास अंग है, और हम इसके स्वास्थ्य के बारे में बिलकुल सोये हुए हैं. अगर आपको अपने दांतों की कदर नहीं तो जरा किसी बुजुर्ग व्यक्ति से जाकर पुछले, शायद आपको फिर कुछ समझ आ जाये.

ऐसा कहा जाता हैं कि 1-2 सदी पहले दांतों में कीड़े होने जैसा कोई रोग नहीं हुआ करता था, यह अभी लगभग 1 सदी पहले से थोड़ा सुनने में आया हैं कि दांतो में भी कीड़े हो सकते हैं.

और इस समय वर्तमान की बात करें तो यह बहुत आम हो गया हैं,  30-40 की उम्र में ही लोगों के दांतो में कीड़े होने लगे हैं. इसके पीछे एक बड़ा कारण हैं, और वह हैं हमारा खान पान.

पिछले कुछ समय से हमारे देश में ऐसी चीजें बनने लगी हैं जो स्वाद में तो बहुत अच्छी होती है लेकिन सेहत के लिए उससे कई ज्यादा नुकसानदायक, और हमारे देश के नोजवान इन्ही चीजों का स्वाद लेने में व्यस्त है, उनके लिए बस स्वाद ही सबकुछ है फिर चाहे इसके दुष्परिणाम Side effect कुछ भी हो, चाहे दांत सड़े, दांत में कीड हो जाए या पेट ख़राब हो जाए.

जानिये 5 मिनट में दांतों के कीड़े का घरेलु उपचार कैसे करे

तो अगर आपको दांत के कीड़े का इलाज करवाना है, इन कीड़ों को ख़त्म करना हैं ओर वह भी हमेशा के लिए तो सबसे पहले आपको ऐसी चीजों से दुरी बना लेनी होगी जो आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाती हो, तभी आप एक स्वस्थ जीवन जी पाएंगे.

यह तो सिर्फ एक कारण है दांत में कीड़े होने का इसके अलावा यह छोटी-छोटी आदते भी दांतों को नुकसान पहुंचाती है.

  • खाना खाने के बाद कुल्ला नहीं करना
  • ज्यादा गर्म चीजे खाना
  • तीखे मसालेदार चीजों का सेवन
  • खाना चबा कर नहीं खाना
  • ब्रश नहीं करना
  • तेजी से दांतों को रगड़कर कर ब्रश करना
  • ज्यादा मीठा खाना
  • Fast foods ज्यादा ताली चीजे खाना
  • आदि यह आदते दांतों को नुकसान पहुंचाती हैं.

यह रही हमारी छोटी-छोटी आदते जिनकी ओर ध्यान न देने से दांत धीरे-धीरे कमजोर होने लगते हैं. अब हम दांत के कीड़े का घरेलु उपाय और नुस्खे के बारे में बात करते हैं, इसके बाद हम कुछ सकारात्मक आदतों के बारे में बताएंगे जिनको अपना कर आप दांतों को मजबूत कर सकते हैं.

दांतों के कीड़े को दूर करने के लिए आप रोजाना नियंमित रूप से बताये जा रहे इन आयुर्वेदिक घरेलु नुस्खों को जरूर अपनाये करीबन 5 से 10 दिन के भीतर आपके दांत के कीड दूर हो जायेंगे. उनसे आपको हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा.

लौंग से दांत के कीड़े हटाने का घरेलु उपचार

इसमे कुछ ऐसे अनूठे गुण होते हैं जो दांतों के सभी तरह के रोगों में लाभ देते हैं. लौंग का आयुर्वेद में बहुत से उपयोग बताये गए जिनके जरिये आप हर शारीरिक रोग का इससे निदान पा सकते हैं. – इस तरह करे लौंग से दांत के कीड़े दूर.

  • 2-4 लौंग लेकर इन्हें बिलकुल बारीक पीस लें, अब इस पाउडर को जिस दांत में कीड़े हो उस पर लगा दें. और अपना मुंह बंद करले 5-10 मिनट तक बंद ही रखे हैं मुंह में बनने वाली लार को भी कीड़े वाले दांत पर ही बनाये रखे इसे थूके न.
  • अगर आप लौंग को पीसकर यह उपाय नहीं कर सकते तो ठीक इसकी जगह लौंग के तैल का प्रयोग करे. लौंग के तैल की 2-4 बून्द अपने कीड़े वाले दांत पर डाल दे ऐसा रोजाना दिन में 2-3 बार करे. कुछ ही दिनों में कीड़े खत्म हो जायेंगे.
  • एक रुई लें और उसे लौंग के तैल में भिगो कर अपने कीड़े वाले दांत पर रख दें. इसे लंबे समय तक रखा रहने दें. यह दांत के कीड़े का सबसे आसान और टिकाऊ इलाज है. इसको आप चाहे तो दिन भर मुंह में रख सकते हैं. बस रुई को लौंग के तैल में अच्छे से भिगोकर रखे.

जायफल से दांत के कीड़े हटाने का घरेलु उपचार

दांत के कीड़े को मारने के उपाय के लिए जायफल बहुत प्रभावकारी होता है. इसका उपयोग सिर्फ कीड़े को मारने के लिए ही किया जाता है. एक रुई के टुकड़े को जायफल के तैल में भिगो कर कीड़े वाले दांत पर रख दें. 5 – 10 मिनट के लिए इसे दांतों पर ही रहने दे और फिर हलके गर्म पानी से कुल्ले कर के मुंह साफ़ करले.

लहसुन से दांत के कीड़े हटाने का घरेलु उपचार

यह भी लौंग की तरह दांतो की हर समस्या के लिए बहुत असरकारी होता हैं. क्योंकि इसमे एंटीबायोटिक ओर तरह-तरह के ऐसे गुण होते हैं जो की दांत के कीड़े व दांत दर्द को दूर करने में सक्षम होते हैं. इसके साथ ही यह मुंह की सभी तरह की अशुद्धियों को दूर करता हैं. – इस तरह करे लहसुन का उपयोग

  • 1-2 लहसुन की कलि को रोजाना दिन में 2 बारे कीड़े वाले दांत से चबाये, चबाने पर इसमे से निकलने वाले रस (Juice) को कीड़े ओर दर्द करने वाले दांत पर बनाये रखे. यह रस, लार दांतों के कीड़े को मारने में बहुत मदद करेगी.
  • लहसुन की कलि में सेंधा नमक मिलाकर भी कीड़े वाले दांत पर लगाया जाता है यह भी प्रभावकारी होता हैं. इसके साथ ही दांत से जुड़े सभी रोग से छुटकारा पाने के लिए रोजाना लहसुन का उपयोग जरूर करे.

सरसों के तेल से मारे दांतों के कीड़ों को

इस तैल में कुछ ऐसे औषधीय गुण होते हैं जो की दांतो का पीलापन और दांत में लगने वाली सड़न को दूर करते हैं. इसके साथ ही सरसों का तैल हर प्रकार के शारीरिक दर्द को दूर करने में बहुत काम आता हैं. इसको मालिश के रूप में भी काम में लिया जाता हैं. – दांत के कीड़ो के लिए इस तरह करे सरसों के तैल का प्रयोग.

  • थोड़ा सा सेंधा नमक लें, फिर इसमे इतना ही सरसों का तैल मिलाये. इनको अच्छे से Mix कर के Paste बना ले. अब इस Paste से दांतों पर मालिश करे.
  • दांतों का पीलापन साफ करने के लिए सेंधा नमक, हल्दी और सरसों का तैल इन तीनो को आपस में मिलाकर Paste बनाकर दांत साफ़ करे. यह दांत साफ़ करने का आयुर्वेदिक तरीका होता हैं.

नीम देगा दांतो को सुरक्षा

इस औषधि का उपयोग शरीर के लिए हर तरह से फायदेमंद होता हैं. इसमे कुछ ऐसे अनूठे गुण होते हैं जो की बैक्टीरिया को मारने में सक्षम होते हैं. इसलिए प्राचीन समय से निम का दांत साफ़ करने के लिए उपयोग किया जाता था. इसका दातुन दांतो के सभी तरह के रोगों से बचाता हैं

  • रोजाना नीम की टहनी से ब्रश (दातुन) करे. इससे दांत मजबूत होंगे, पिले दांत साफ़ होंगे, दांतों की कमजोरी भी दूर होगी.

दांतों के कीड़ों से होने वाले दर्द से कैसे बचे

बर्फ में ऐसे गुण होते हैं जो की सभी तरह के शारीरिक दर्द से राहत दिलाने में सक्षम होते हैं. इसीलिए तेज बुखार में भी ठंडी पानी की पट्टी का उपयोग किया जाता हैं.

  • तेज दांत दर्द को दूर करने के लिए. बर्फ के छोटे-छोटे टुकड़े करके एक कपडे में बांध कर दर्द करने वाले दांत पर सेंक करे. बर्फ से तब तक सेंक करते रहे जब तक की दर्द में आराम न हो जाये. Normally इसका सेंक 15-20 minutes तक किया जाता हैं.

दांत के कीड़े के लिए प्याज का देसी इलाज

यह भी उन कुछ ऐसी अनूठी चीजों में से एक हैं जो की मनुष्य के शरीर को हर तरफ से स्वास्थ्य देती हैं. क्योंकि इसमे ऐसे गुण होते हैं जो की मुंह की बदबू, मुंह के बैक्टीरिया, दांतों की कीड़े आदि मुंह को सभी तरह दे सुरक्षा देता हैं. – कीड़ों को मारने के लिए इस तरह करे प्याज का प्रयोग.

  • प्याज के एक छोटे टुकड़े को कीड़े वाले दांत पर रख कर चबाये फिर इसमे से जो लार निकले उसे कीड़े वाले दांत पर ही बनाये रखे. यह लार दांतों के बैक्टीरिया और कीड़ों को मारने में बहुत मदद करती हैं.

प्याज के दानो के धुएं को सिगरेट के रूप में पिने से दांत के कीड़े तुरंत मर जाते हैं.

हींग से करे दांत के कीड़े का घरेलु उपचार

अभी तक बताये गए सभी नुस्खों में से यह नुस्खा सबसे आसान हैं. हींग को गर्म पानी में डालकर उबाले, अच्छे से उबालने के बाद जब यह पानी हल्का ठंडा हो जाए तो इस पानी से कुल्ला करे. हींग का कुल्ला दांत के कीड़े का आयुर्वेदिक घरेलु उपचार होता हैं जो की आसान और असरकारी माना जाता हैं.

दांतों के खोखले हिस्सों में हींग भर देने से बहुत फायदा होता हैं.

तो अब आपने दांत के कीड़े का घरेलु इलाज व नुस्खे & उपाय जान ही लिए हैं. हमारी सलाह हैं की आप दांत के कीडों को दूर करने के लिए सबसे पहले लौंग, जायफल, प्याज का इस्तेमाल करे इसके बाद आप बाकी आयुर्वेदिक नुस्खों का उपयोग कर सकते हैं.

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply