इस पेड़ की पत्तियां खाइए, कैंसर ठीक हो जाएगा

0

कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को एक पेड़ की पत्‍ती से ठीक किया जा सकता है। शायद यह पढ़कर आपको यकीन न हो लेकिन यह सच है। छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में दहीमन नाम के इस पेड़ से और भी बीमारियों का उपचार होता है। जिससे अब इस विशेष किस्‍म के पौधे के सरंक्षण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। आइए जानें इस वृक्ष के बारे में….

पत्‍ती से आराम

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में दहीमन नाम का यह पेड़ काफी चर्चा में है। इस पेड़ की पत्‍तियां संजीवनी बूटी का काम करती हैं। इसके सेवन से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को ठीक किया जा सकता है। अब तक कई लोगों को इसकी पत्‍ती से आराम भी मिला है। इसके अलावा इससे मानसिक पीड़ा, ब्लड प्रेशर और पीलिया जैसी बीमारियों को भी खत्‍म किया जा सकता है।

पेड़ की पहचान

इस पेड़ के इन गुणों की वजह से ही अब इसके सरंक्षण की प्रकिया भी तेजी से स्‍टार्ट हो गई है। वन विभाग द्वारा यह इसके पौधों को दिल्‍ली के संसद भवन तक में भेजा जा चुका है। हालांकि अभी इस पेड़ की पहचान हर किसी को नहीं मालूम है। जिससे अभी इसकी मांग इतनी नही हुई है। इस पेड़ के पत्‍तियों की खासियत भी काफी अनोखी है।

उभर कर आ जाएगा

इसके पत्तों पर आप कुछ भी लिखेंगे तो उसका वह अपने आप उभर कर आ जाएगा। वहीं इसको लेकर यह भी मान्‍यता है कि यह आदि काल का पौधा है। उस दौर में गुप्तचरों द्वारा इस पत्ते पर संदेष अदान-प्रदान किये जाते थे। यह संदेश आज भी इन पत्‍तों पर साफ तौर पर दिखाई देते हैं। जिनको पढ़ना काफी आसान है।

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply