ये है ब्रश करने का सही तरीका, ऐसे करें दांत साफ

0

यह तो सब जानते हैं कि ब्रश करना शरीर के लिए बहुत जरुरी है और हर रोज ब्रश करते भी हैं, लेकिन बहुत कम लोग ये जानते हैं कि ब्रश करने का सही तरीका क्या है और गलत तरीके से ब्रश करते हैं जिससे कि उन्हें ज्यादा फायदा नहीं मिलता है। आइये,आज हम आपको बताते हैं की हमें कैसे ब्रश उपयोग करना चाहिए और कैसे नहीं

हमेशा अच्छी गुणवता वाला ब्रश ही उपयोग करें।

किसी भी ब्रश की गुणवता का पता लगाना हमारे लिए मुश्किल हैं, इसलिए अच्छी गुणवता वाले ब्रशो के चयन करने के लिए एक विशेषग्य की सलहा लें और ADA के द्वारा चयनित ब्रश का प्रयोंग करें।

जब आप ब्रश करते हो उस वक्त ज्यादा दबाव ना डालें।

जब आप ब्रश करते हो तो अनजाने में हम इतना दबाव डालते हैं और यह तरीका बिलकुल गलत हैं हमें सही तरीके से ब्रश करने के लिए अंगूठे और तर्जनी अंगुली का प्रयोग करना चाहिए।

सिर्फ भोजन के बाद ब्रश नहीं करना चाहिए।

ज्यादातर हम खाने के बाद ही ब्रश करते हैं, पर ये सही नहीं हैं हमें दिन में दो बार ब्रश करना चाहिए सुबह उठते ही और शाम को। ब्रश करने के बाद हमें कुछ भी खाना नहीं चाहिए। ब्रश करने के तुरंत बाद हमें कुछ भी नहीं खाना चाहिए कुछ समय देना चाहिए।

अपने ब्रश को समय दें।

हमें ब्रश करते वक्त अपने मुहं के प्रत्यक भाग में ब्रश को 30 – 30 सेंकड देने चाहिए इससे दांतों की सफाई अच्छे से हो जाती हैं।

ज्यादातर लोग नर्म ब्रश पसंद करते हैं।

ज्यादातर लोग नर्म ब्रश पसंद करते हैं। लोगो को मुलायम और नर्म ब्रश पसंद होते हैं जिन्हें मुहं में रखने से कोई परेशानी नहीं होती हैं जबकि कुछ ब्रश ऐसे होते हैं जिनसे हमारा मुहं छिल जाता हैं । अपने गम लाइन की और ध्यान अवश्य दें उसे ऐसे ही ना छोड़े।

कभी कभी हम खुल्ले में छोड़ देते हैं ब्रश तो चिंता नहीं करनी चाहिए।

कभी कभी ब्रश करने के बाद हम उसने साफ़ करना भूल जाते हैं और हमें यही चिंता हो जाती हैं की इससे हमारे स्वस्थ पर तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा ना, तो घबराएं नहीं उठते ही उसे साफ़ करें।

टूथब्रश का उपयोग करने से पहले उसे अच्छे से साफ़ करना चाहिए।

हम ब्रश करने के बाद ब्रश को ऐसे ही रख देते हैं जिसकी वजह से अनेक बेक्टीरिया उस ब्रश पर भी पहुँच जाते हैं यदि उसे हम साफ़ नहीं करते हैं तो वो बेक्टीरिया हमारे मुहं मे भी पहुँच सकते हैं।

SHARE
इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply