जाने क्या होता है 1 महीने के लिए रोज 2 अनार खाने से

0

दोस्तों यह कहावत तो अपने सुनी होगी – एक अनार सौ बीमार
मतलब अनार एक फल नहीं औषधि है जो अनेक बिमारियों के उपचार में सहायक हैं, अनार प्रचुर मात्रा में विटामिन ए, सी, ई, फोलिक एसिड, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, एंटीऑक्‍सीडेंट तत्व और खनिज पदार्थ पाये जाते हैं। किसी भी कारण से आयी शारीरिक कमजोरी, खून की कमी और त्वचा की सुंदरता को बढ़ाता हैं

तो चलो दोस्तों अब हम अनार खाने के 10 जबरदस्त फायदे जानते हैं

1. शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाता हैं

शरीर में खून की कमी होने पर डॉक्टर सबसे पहले अनार खाने की सलाह देते हैं, अनार में पर्याप्त मात्रा में iron और विटामिन सी पायी जाता हैं, यह शरीर में लाल रक्त कोशिकावो की संख्या को बढाती हैं और इससे यह रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ती हैं, आप रोज एक अनार का सेवन करे, आपको कभी खून की कमी नहीं होगी

2 बालों को स्वस्थ रखता हैं

आप एक कप अनार के ज्यूस में दो चम्मच निम्बू का रस मिलकर बालों में लगा ले और करीब 30 मिनट बाद पानी से धो ले, यह बालो को पोषण देकर उन्हें मजबूत और चमकदार बनाता हैं

3. दांतो के लिए फायदेमंद

अनार में विटामिन सी, विटामिन ई, कैल्शियम और एन्टिओक्सीडेंट तत्व काफी मात्रा में पाए जाते हैं, अनार के ज्यूस के सेवन से दन्त क्षय, मसूड़ों की सूजन और पायरिया रोग में फायदा होता हैं और अनार के रस से कुल्ला करने पर मुँह की बदबू दूर होती हैं

4. त्वचा और चेहरे की सुंदरता को बढ़ाता हैं

अनार में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट तत्व काफी मात्रा में पाए जाते हैं, जो हमारे चेहरे की त्वचा को झुर्रियों और दाग-धब्बो से बचाते हैं, अनार में मौजूद पोषक तत्व नयी कोशिकावो के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, जिससे चेहरे पर निखार आता हैं, रोज एक अनार का सेवन करने से यह बढ़ती हुई उम्र के प्रभाव को रोकता हैं, और त्वचा को सुन्दर, जवान और बेदाग बनाये रखता हैं

5. स्मरण शक्ति को बढ़ाता हैं

अनार के सेवन से दिमाग की memory power बढ़ती हैं, उम्र के बढ़ने पर जो भूलने की बीमारी होती हैं उसको यह ठीक करता हैं, दोस्तों अनार के फ्रेश जूस का ही सेवन करे, मार्केट में मिलने वाले ज्यूस में मिलावट के कारण हानिकारक तत्व भी हो सकते हैं

6. जोड़ो के दर्द में राहत

अनार में एंटीऑक्सीडेंट तत्व काफी मात्रा में पाया जाता हैं, यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, अनार के ज्यूस के सेवन से जोड़ो के दर्द और बाहरी सूजन में फायदा होता हैं

7. गर्भवती महिलावो के लिए

गर्भवती महिलाये एक कफ अनार का ज्यूस या एक अनार का रोज सेवन कर सकती हैं, यह Pregnancy में माँ और बच्चे दोनों के स्वास्थय के लिए लाभदायक होता हैं, अनार में विटामिन सी, विटामिन के और फोलिक एसिड होता हैं जो बच्चे के विकास को बढ़ाता हैं साथ में महिला के शरीर में ब्लड की मात्रा को नियंत्रित करता हैं

8. मधुमेह को नियंत्रित करता हैं

इसके आलावा अनार में फ्रक्टोस और एन्टीऑक्सीडेंट तत्व काफी मात्रा में पाया जाता है, जो ब्लड में शुगर लेवल को बढ़ने नहीं देता हैं, इसलिए मधुमेह रोगी भी इसका सेवन कर सकते हैं

9. दिल को स्वस्थय रखता हैं

दिल की बीमारियों के लिए अनार को बहुत पौष्टिक माना जाता है। यह High Blood Pressure को नियंत्रित करता हैं, यह शरीर में खून का संचालन सही प्रकार से बनाये रखता हैं, अनार के सेवन से हार्ट-अटैक आने का खतरा काफी काम हो जाता हैं, यह कैंसर होने के खतरे को भी कम करता हैं

10. चेहरे पर फेसपैक के रूप में

अनार का छिलका डेड स्किन सेल्स को खत्म कर चेहरे में निखार लाता है, अनार के छिलकों को धूप में सूखाकर पाउडर बना लें, इसमें गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बना ले, इस पेस्ट को चेहरे पर लगा कर करीब 30 मिनट बाद पानी से धो ले. इसके आलावा आप अनार के रस में शहद मिलाकर भी उसे कर सकते हैं, इसमें मौजूद एन्टीऑक्सीडेंट तत्व पिम्पल्स की समस्या को जड़ से ख़त्म कर देते हैं, अनार अन्य फलो की तुलना में थोड़ा महंगा होता हैं, परन्तु मार्केट में मिलने वाले फेसपैक से तो सस्ता होता हैं,

 

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply