इन चीजों को खाने-पीने से नॉर्मल रहेगा यूरिक ऐसिड

0

मानव शरीर में प्यूरिन के टूटने से यूरिक ऐसिड बनता है। यह ब्लड के सहारे किडनी तक पहुंचता है। वैसे तो यूरिक ऐसिड यूरीन के रूप में शरीर के बाहर निकल जाता है। लेकिन, कभी-कभी यह शरीर में ही रह जाता है और इसकी मात्रा बढ़ने लगती है। ऐसे में यह ऐसिड शरीर के लिए परेशानी खड़ी कर देता है। यूरिक ऐसिड की ज्यादा मात्रा से हार्ट डिजीज, हायपरटेंशन, किडनी स्टोन और गठिया जैसी बीमारियां भी हो सकती है, इसलिए यूरिक ऐसिड की मात्रा को कन्ट्रोल में रखना बेहद जरूरी है। यहां हम आपको बता रहे हैं ऐसी चीजों के बारे में जिनका सेवन करके आप अपने यूरिक ऐसिड को नॉर्मल रख सकते हैं।

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

खाएं ये:

– रोजाना सुबह 2 से 3 अखरोट जरूर खाएं. ऐसा करने से बढ़े हुए यूरिक एसिड के लेवल की धीरे-धीरे कम होने की संभावना होती है.
– ज्यादातर फाइबर वाला खाना जैसे ओट्स, दलिया , ब्राउन राईस आदि खाना चाहिए.
– प्रोटीन से भरपूर चीजें जैसे मसूर दाल, सोयाबीन, राजमा , रेड मीट आदि खाना बिल्कुल बंद कर दें.
– रोज अजवाइन खाना ऐसे में फायदेमंद माना जाता है. इससे भी यूरिक एसिड की मात्रा कम हो सकती है.
– विटामिन सी यूरिक एसिड को बाहर निकालता है. इसलिए विटामिन सी से भरपूर चीजें ज्यादा से ज्यादा खानी चाहिए.
– फल और सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खाएं.
– रोजाना एक सेब खाने से ब्लड में यूरिक एसिड का लेवल कम हो सकता है.
– तली-भुनी और चिकनाई वाली चीजों से दूर रहें.
– दिनभर पानी पीना तो रामबाण की तरह है. जितना ज्यादा पानी पिया जाएगा, गंदगी उतने ही अच्छे से बाहर निकलेगी.

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply