खाने वाला चूना संजीवनी है, 70 बीमारियों को ठीक कर देता है

3

चूना अक्सर पान के साथ मिलाकर खाया जाता है। यह चूना हमारी सेहत के लिए भी बेहद फायेदमंद और कई बीमारियों ठीक करने वाला होता है। हम आपको पान खाने की सलाह नहीं दे रहें अपितु हम आपको चूने के स्वास्थवर्धक फायदे और इसका इस्तेमाल कैसे करना है आदि के बारे में जानकारी दे रहे हैं। बहुत ही कम लोगों को पान में गिराए जाने वाले चूने के फायदों के बारे में पता होगा।

चूना एक टुकडा छोटे से मिट्टी के बर्तन मे डालकर पानी से भर दे , चूना गलकर नीचे और पानी ऊपर होगा ! वही एक चम्मच पानी किसी भी खाने की वस्तु के साथ लेना है ! 50 के उम्र के बाद कोई कैल्शियम की दवा शरीर मे जल्दी नही घुलती चूना तुरन्त घुल व पच जाता है

न*पुं*सकता

जिन पुरूषों में शु*क्रा*णु न बन रहा हो वे गन्ने के रस के साथ गेहूं के दाने के बराबर चूना को मिलाकर पीएं। इस उपाय से पूरी मात्रा में पुरूषों में शु*क्रा*णु बनते हैं।

पीलिया

जोंडिस यानि कि पीलिया की सबसे अच्छी दवा है चूना। गन्ने के रस में गेहूं के दाने के बराबर चूना डालकर पीने से पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है।

“जिन लोगो को पथरी (stone) की समस्या है वो चूना का सेवन न करे “

बच्चों की लंबाई को बढ़ाता है

गेहूं के दाने के बराबर चूने को दही के साथ या फिर दाल के साथ मिलाकर बच्चे को देने से उनकी लंबाई तेजी से बढ़ती है। साथ ही साथ चूना बच्चों के दिमाग को भी तेज बनाता है। मंद बु़द्धि बच्चों को भी इसी मात्रा में चूना देने से फायदा मिलता है।

सभी दर्द में चूना

कंधे का दर्द हो या घुटने का दर्द , और एक खतरनाक बीमारी है चवदकलसपजपे जो कि चूने से ही ठीक होती है।

कई बार हमारे रीढ़की हड्डी में जो मनके होते है उसमे दुरी बढ़ जाती है Gap आ जाता है ये चूना ही ठीक करता है उसको रीड़ की हड्डी की सब बीमारिया चूने से ठीक होता है । अगर आपकी हड्डी टूट जाये तो टूटी हुई हड्डी को जोड़ने की ताकत सबसे ज्यादा चूने में है । चूना खाइए सुबह को खाली पेट ।

शरीर में खून बढ़ाना

चूना शरीर में खून को भी बढ़ाता है। अनार के रस में या संतरे के रस में बहुत ही छोटी मात्रा यानि गेहूं के दाने के बराबर चूने को मिलाकर पीने से शरीर में खून तेजी से बनता है।

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

मुंह सबंधी रोगों में

  • मुंह में छाले होने पर पानी में चूना मिलाकर कुल्ला करने से छाले ठीक हो जाते हैं।
  • यदि मुंह में गरम और ठंडा पानी लगता हो तो चूने को खाएं।

मासिक धर्म की समस्या में चूना

बहनों को अपने मासिक धर्म के समय अगर कुछ भी तकलीफ होती हो तो उसका सबसे अच्छी दवा है चूना । हमारे घर में जो माताएं है जिनकी उम्र पचास वर्ष हो गयी और उनका मासिक धर्म बंध हुआ उनकी सबसे अच्छी दवा है चूना..
गेहूँ के दाने के बराबर चूना हर दिन खाना दाल में,
लस्सी में, नही तो पानी में घोल के पीना ।

गर्भवती महिलाओं के लिए चूना

गेहूँ के दाने के बराबर चूना हर दिन खाना दाल में, लस्सी में, नही तो पानी में घोल के पीना । जब कोई माँ गर्भावस्था में है तो चूना रोज खाना चाहिए क्योंकि गर्भवती माँ को सबसे ज्यादा केल्शियम की जरुरत होती है और चूना केल्शियम का सबसे बड़ा भंडार है । गर्भवती माँ को चूना खिलाना चाहिए।

अनार के रस में – अनार का रस एक कप और चूना गेहूँ के दाने के बराबर ये मिलाके रोज पिलाइए नौ महीने तक लगातार दीजिये तो चार लाभ होंगे :

पहला लाभ: माँ को बच्चे के जनम के समय कोई तकलीफ नही होगी और नॉर्मल डीलिवरी होगा

दूसरा लाभ: बच्चा जो पैदा होगा वो बहुत हृष्ट पुष्ट और तंदुरुस्त होगा

तीसरा लाभ: बच्चा जिन्दगी में जल्दी बीमार नही पड़ता जिसकी माँ ने चूना खाया

चौथा सबसे बड़ा लाभ: बच्चा बहुत होशियार होता है बहुत Intelligent और Brilliant होता है उसका IQ बहुत अच्छा होता है।

  • जिन बच्चों की बुद्धि कम काम करती है मतिमंद बच्चे उनकी सबसे अच्छी दवा है चूना ..जो बच्चे बुद्धि से कम है, दिमाग देर में काम करते है, देर में सोचते है हर चीज उनकी स्लो है उन सभी बच्चे को चूना खिलाने से अच्छे हो जायेंगे ।
  • घुटने में घिसाव आ गया और डॉक्टर कहे के घुटना बदल दो तो भी जरुरत नही चूना खाते रहिये और हरसिंगार के पत्ते का काढ़ा खाइए घुटने बहुत अच्छे काम करेंगे ।

“राजीव भाई कहते है चूना खाइए पर चूना लगाइए मत किसको भी..ये चूना लगाने के लिए नही है खाने के लिए है ;
आजकल हमारे देश में चूना लगाने वाले बहुत है पर ये भगवान ने खाने के लिए दिया है।” 

आइये जाने दालचीनी के फायदे

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

3 COMMENTS

Leave a Reply