गंजापन दूर करेंगे ये फल

0

गंजापन दूर करेंगे ये फल: जब किसी से आप किसी के अपियरेंस की बात करते हैं तो लुक, कपड़े और उसके बोलने-चलने के साथ उसके बालों की भी बात बताते हैं। लेकिन इससे दुखदायी किसी के लिए और क्या होगा कि अगर कोई तीसरा आदमी गंजा  कहकर आपको संबोधित करे?

आप चाहें तो गंजेपन को कुछ आसान से तरीके अपनाकर हमेशा के लिए अलविदा कह सकते हैं। ये ‌पांच सुपर फ्रूट को अपना दोस्त बनाकर आप गंजेपन को खत्म करने की कोशिश कर सकते हैं।

आखिर क्या हैं ये सुपर  फ्रूट्स आप भी जान लीजिए। अगर किसी ऐसे को जानते हैं जिसके बाल तेजी से झड़ रहें हैं, तो उन्हें भी इन फलों के बारे में बता सकते हैं।

आयुर्वेद हीलिंग एप्प के माध्यम से पाइए आयुर्वेद से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी, विभिन्न आयुर्वेदिक व घरेलू नुस्ख़े, योगासनों की जानकारी। आज ही एप्प इंस्टॉल करें और पाएं स्वस्थ और सुखी जीवन। सबसे अच्छी बात ये है कि ऑफलाइन मोड का भी फीचर है मतलब एक बार अपने ये एप्प इनस्टॉल कर ली तो अगर आपका नेट पैक खत्म 🤣 भी हो जाता है तो भी आप हमारे घरेलू नुस्खे देख सकते है तो फिर देर किस बात की आज ही इनस्टॉल करे । नीचे दिए गए लाल रंग के लिंक में क्लिक करे और हमारी एप्प डाउनलोड करे
http://bit.ly/ayurvedhealing

सेब और स्ट्रॉबेरी आपके साथी

स्ट्रॉबेरी तो वैसे भी सबका पसंदीदा फल होता है। एक खबर के मुताबिक स्टॉबेरी में जमकर सिलिका पाया जाता है। इससे गंजेपन को रोका जा सकता है। इसे खाने के बालों की बढ़त भी होती है।

साथ ही अगर आप सेब भी खाते हैं तो खुदका दो तरह से बचाव करते हैं। इसमें पाया जाने वाला प्रचूर मात्रा में फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन बालों को टूटने से बचाते हैं।

ये भी कहा जाता है कि सेब खरीदते वक्त इस बात का ख्याल रखें कि सेब ज्यादा चमकीले ना हों।  अत्यधिक चमकते हुए सेब कलरिंग और वैक्स किए हुए होने के खतरे में होते हैं। इसलिए बचकर, जांचकर ही इनको खरीदें।

जूस से भरें फलों का करें सेवन

झड़ते बालों को रोकने के फलों का सेवन सही मात्रा में करना ही चाहिए। खासकर ऐसे फल जिनमें जूस काफी हो। अब अंगूर को ही ले लीजिए।

इसके अलावा आपके लिए संतरे का सेवन भी काफी बढ़िया रहेगा। इसमें विटामिन सी काफी होता है। इसका मतलब है ये कई तरह के एंटीऑक्सिडेंट्स, बीटा कैलोरीन, मैगनीजिसयम, फाइबर और कई तरह के विटामिन से रिच होता है।

आप चाहें तो केला भी खा सकते हैं।इसमें पोटेशियम होता है। फाइबर, पेक्टिन और कई और चीजें भी जो आपको हर मामले में फायदा ही पहुंचाएंगी।

इस वेबसाइट में जो भी जानकारिया दी जा रही हैं, वो हमारे घरों में सदियों से अपनाये जाने वाले घरेल नुस्खे हैं जो हमारी दादी नानी या बड़े बुज़ुर्ग अक्सर ही इस्तेमाल किया करते थे, आज कल हम भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में इन सब को भूल गए हैं और छोटी मोटी बीमारी के लिए बिना डॉक्टर की सलाह से तुरंत गोली खा कर अपने शरीर को खराब कर देते हैं। तो ये वेबसाइट बस उसी भूले बिसरे ज्ञान को आगे बढ़ाने के लक्षय से बनाई गयी है। आप कोई भी उपचार करने से पहले अपने डॉक्टर से या वैद से परामर्श ज़रूर कर ले। यहाँ पर हम दवाएं नहीं बता रहे, हम सिर्फ घरेलु नुस्खे बता रहे हैं। कई बार एक ही घरेलु नुस्खा दो व्यक्तियों के लिए अलग अलग परिणाम देता हैं। इसलिए अपनी प्रकृति को जानते हुए उसके बाद ही कोई प्रयोग करे। इसके लिए आप अपने वैद से या डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करे।
Loading...

Leave a Reply